मुरैना- देखिये नाले में गिरे सांड को किस तरह किया रेस्क्यू, स्थानीय लोगों ने निकाला बाहर

मुरैना, नितेंद्र शर्मा। सावन मास चल रहा है और शिव पूजा करते हुए शिव भक्त जगह जगह पर आपको नजर आएंगे। साथ ही शिव प्रिय गण नंदी की भी पूजा की जाती है। माना जाता है कि नंदी ही भगवान शिव तक आपकी हर प्रार्थना पहुंचाते है, पर आज शिव के प्रिय गण कहलाए जाने वाले नंदी खुद भक्तों से अपनी जान बचाने की गुहार लगाते नजर आए। दरअसल, एक सांड नाले में गिर गया और फिर स्थानीय लोगों ने काफी मशक्कत के बाद उसे बाहर निकाला।

MP Flood: बचाव एवं राहत का काम में जुटी NDRF की टीम, पहुँचा सेना का एक दस्ता

मुरैना शहर की व्यस्ततम एमएस रोड पर अक्सर आवारा पशु देखने को मिल जाएंगे। इनमें सबसे ज्यादा गाय व सांड होते हैं। यह सांड सड़क पर बीचोंबीच बैठे, आपस में लड़ते रहते हैं और कई बार राहगीरों को भी घायल कर चुके हैं। शनिवार को भी बैंक के सामने दो सांडों की लड़ाई हो रही थी और इसी दौरान एक सांड वहां बने नाले में गिर पड़ा। नाले में गिरने के बाद सांड कई घंटों तक वहां में फंसा रहा। इसकी सूचना नगर निगम को भी दी गई पर काफी समय इंतजार करने पर भी नगर निगम की तरफ से कोई भी रेस्क्यू टीम वहां नहीं पहुंची। इसके बाद आखिरकार स्थानीय लोग ही सांड को बाहर निकालने के लिए जुटे और आखिर काफी मशक्कत करने के बाद उस सांड को नाले से बाहर निकाला गया।

बता दें कि आये दिन शहर में इस तरह के हादसे होते रहते हैं। कहीं नाले खुले हुए हैं, आवारा पशु खुलेआम सड़कों पर घूम रहे हैं, सड़कें खुदी पड़ी है, सीवरेज का कार्य 5 साल से चल रहा है। इसमें खास बात ये कि दूध देने वाली आवारा गायों को नगर निगम ने गौशालाओं में भिजवा दिया है पर जो पशु काम के नहीं है वह खुलेआम घूम रहे हैं। कई बार इन आवारा पशुओं ने लोगों को नुकसान भी पहुंचाया है, लेकिन प्रशासन और नगर निगम आंखें मूंदे बैठा हुआ है।