Morena News : पत्थर माफिया ने टीआई को ट्रैक्टर से कुचलने का किया प्रयास, गंभीर रूप से घायल, ग्वालियर किया रेफर

ट्रैक्टर चालक और मालिक के खिलाफ सिविल लाइन थाना में कार्रवाई की जा रही है। ट्रैक्टर ड्राइवर को पकड़ लिया गया है। मालिक फरार हो गया है।

morena news

Morena News :  मध्य प्रदेश के मुरैना जिले में सक्रिय पत्थर व अवैध रेत माफिया इस कदर बेखौफ हो गए हैं कि उनके धंधे में खलल डालने वालों को ही रास्ते से हटाने तक से गुरेज नहीं कर रहे हैं। स्थिति यह है कि पुलिस वालों को भी कुछ नहीं समझ रहे हैं। खनन कर पत्थर ले जा रहे ट्रैक्टर ट्राली ड्राइवर को सिविल लाइन थाना क्षेत्र में पुलिस टीम ने रोकने का प्रयास किया तो दुस्साहसी ड्राइवर ने टीआइ को ट्रैक्टर ट्राली से कुचल देने की कोशिश की। मगर सिविल लाइन थाना प्रभारी ने अपनी सूझबूझ दिखाकर अपनी जान बचाई। पुलिस ने अवैध पत्थर से भरी ट्रैक्टर ट्राली को जब्त कर लिया गया है। साथ ही ट्रैक्टर चालक और मालिक के खिलाफ सिविल लाइन थाना में कार्रवाई की जा रही है। ट्रैक्टर ड्राइवर को पकड़ लिया गया है। मालिक फरार हो गया है।

क्या है पूरा मामला

बता दें कि यह पूरा मामला सिविल लाइन थाना क्षेत्र का है, घटना गुरुवार दोपहर करीब एक बजे की है। गुरुवार दोपहर में माइनिंग दल और सिविल लाइन थाना प्रभारी रामबाबू यादव अवैध पत्थर के परिवहन की सूचना मिली थी कि अवैध पत्थर से भरे ट्रैक्टर-ट्रॉली विक्रम नगर तरफ जा रहे थे। सूचना के आधार पर तभी टीआई रामबाबू यादव दलबल के साथ वहां पहुंच गए। इस दौरान टीआई रामबाबू पत्थर से भरे एक ट्रैक्टर-ट्रॉली को पकड़ने के लिए ट्रैक्टर पर चढ़े तो ड्राइवर ट्रैक्टर ट्रॉली लेकर भागने का प्रयास किया। पहले उसने ट्रैक्टर को बिजली के खंबे से टकराया फिर पेड़ में टक्कर मारकर ट्रैक्टर से टीआइ को नीचे गिरा दिया। इसके बाद टीआई पर ट्रैक्टर चढ़ाने का प्रयास किया। टीआइ ने पेड़ के पीछे भागकर अपनी जान बचाई। हादसे में वे बुरी तरह घायल हो गए। जिला अस्पताल में प्राथमिक उपचार के बाद उन्हें ग्वालियर रेफर कर दिया गया है।

गौरतलब है कि 8 मार्च 2012 को अवैध खनन के खिलाफ कार्रवाई करने गए एक 2009 बैच के आईपीएस अधिकारी नरेंद्र कुमार को ट्रैक्टर से कुचल दिया गया, जिससे उनकी मौत हो गई। हाल ही में अवैध रेत उत्खनन के दौरान एक शिक्षक को ट्रैक्टर ट्राली से कुचलकर मार दिया गया।

मुरैना से नितेन्द्र शर्मा की रिपोर्ट


About Author
Amit Sengar

Amit Sengar

मुझे अपने आप पर गर्व है कि में एक पत्रकार हूँ। क्योंकि पत्रकार होना अपने आप में कलाकार, चिंतक, लेखक या जन-हित में काम करने वाले वकील जैसा होता है। पत्रकार कोई कारोबारी, व्यापारी या राजनेता नहीं होता है वह व्यापक जनता की भलाई के सरोकारों से संचालित होता है।वहीं हेनरी ल्यूस ने कहा है कि “मैं जर्नलिस्ट बना ताकि दुनिया के दिल के अधिक करीब रहूं।”

Other Latest News