5-5 हजार रुपए के इनामी आरोपी गिरफ्तार, हत्या-लूट के मामले में चल रहे थे फरार

मुरैना।संजय दीक्षित।

पुलिस अधीक्षक डॉ असित यादव व अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक आसुतोष बागरी के द्वारा हत्या, लूट,डकैती के मामले में फरार आरोपियों की गिरफ्तारी हेतु समस्त अधिकारियों को दिशा निर्देश दिए गए थे।इसी निर्देशन में एसडीओपी सुजीत सिंह भदौरिया के मार्गदर्शन में थाना प्रभारियों ने कई वर्षों से फरार आरोपियों की गिरफ्तारी हेतु प्रयास किए जा रहे हैं।एसडीओपी सुजीत सिंह भदौरिया के मार्गदर्शन में जौरा थाना प्रभारी नरेंद्र शर्मा को मुखबिर द्वारा सूचना मिली कि करीब 5 -5 हज़ार रुपए के फरार आरोपी बटुआ और आजाद खां बाजार में घूम रहे हैं।मुखबिर की सूचना से पुलिस ने घेराबन्दी कर दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया।आरोपी गौवंश अधिनियम के अपराध में 17 साल से फरार थे।पुलिस अधीक्षक के द्वारा आरोपियों पर 5-5 हजार रूपये का इनाम घोषित था।आरोपियों ने अपना नाम आरोपी बटुआ पुत्र बदलू खां निवासी इस्लामपुरा मुरैना एवं आजाद खानं पुत्र फैयाद खांन निवासी घुर्रा का होना बताया है। इसके साथ ही बागचीनी थाने में दहेज व हत्या के मामले में दो साल से फरार चल रहे पांच हजार रूपये के ईनामी रणवीर सिंह पुत्र राजेन्द्र सिंह सिकरवार निवासी रामसिंह का पुरा थाना बागचीनी को गिरफ्तार कर सफलता हासिल की है। वहीं बागचीनी थाना प्रभारी आर पी एस विमल को मुखबिर द्वारा सूचना मिली कि हत्या के मामले में फरार आरोपी सामंत सिंह अपने गाँव हवेली का पुरा में घूम रहा हैं।इसी सूचना पर पुलिस ने घेराबन्दी कर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया।आरोपी सामंत सिंह पुत्र रामचरण सिंह सिकरवार नि हवेली का पुरा गलेथा करीब 39 साल से हत्या के मामले में फरार चल रहा था।जिस पर पुलिस अधीक्षक के द्वारा 8 हजार रूपये के ईनामी घोषित किया गया था। आरोपी पूर्व में हत्या एवं बलवा के अपराध में फरार चल रहा था।आरोपियों को गिरफ्तार करने में थाना प्रभारी जौरा नरेंद्र शर्मा,उपनिरी सुभाष शर्मा,सउपनिरी रामवीर राजावत,बागचीनी थाना प्रभारी आर वी एस विमल,कपिल जाट,तेजवीर, शैलेन्द्र सिकरवार की अहम भूमिका रही।