MP News: लापरवाही पर एक्शन, 12 कर्मचारी निलंबित, 12 शिक्षकों का वेतन रोका, 2 की सेवा समाप्त

जबलपुर में जाति प्रमाण-पत्र के वितरण के दौरान शराब पीकर छात्र-छात्राओं के साथ अभद्र व्यवहार करने के आरोप में शासकीय कन्या हाईस्कूल व्हीकल के एक भृत्य गोपाल बर्मन को निलंबित कर दिया गया है।

निलंबित

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश (MP News Today) में लापरवाह अधिकारियों और कर्मचारियों पर बड़ी कार्रवाई की गई है। गुना कलेक्टर फ्रेंक नोबल ए. ने जिले में संलग्नीकरण (अटैचमेंट) में लापरवाही करने और प्रशिक्षण मे अनुस्थित रहने के बाद 3 सरकारी शिक्षकों और 2 बाबू को निलंबित कर दिया गया है,वही 12 शिक्षकों का वेतन रोक गया है। वहीं वंचित 21000 विद्यार्थियों को छात्रवृत्ति मिलने तक सभी बीईओ का वेतन रोकने के निर्देश दिए हैं।

यह भी पढ़े.. MPPEB: उम्मीदवारों के लिए आखरी मौका, 23 अगस्त से पहले करें Apply, 2557 पदों पर होनी है भर्ती, परीक्षा पर ताजा अपडेट

गुना कलेक्टर ने लंबे समय से अनुपस्थित राघौगढ के शिक्षक नीरज जाटव, चांचौडा के शिक्षक जयश्री कड़क, गुना के शिक्षक रामकृष्ण अहिरवार, निर्वाचन शाखा के अखिलेश श्रीवास्वत को निलंबित करने के निर्देश दिए। इसके साथ ही लिपिक सोनू आर्य के विरुद्ध डीई के आदेश दिए हैं। वहीं एफएलएन प्रशिक्षण के दौरान अनुपस्थित 12 शिक्षकों के वेतन रोकने के निर्देश दिए हैं।

कलेक्टर ने साफ कहा कि सभी प्रकार के संलग्नीकरण तत्काल निरस्त किए जाएं।बहुत आवश्यक संलग्नीकरण के प्रस्ताव जिला शिक्षा अधिकारी को BEO-BRC के माध्यम से भेजें और फिर संयुक्त कलेक्टर एवं DPC के माध्यम से प्रस्तुत किए जाएं। कलेक्टर द्वारा BEO राघौगढ़, आरोन, चांचौडा, बमोरी, गुना को स्पष्ट निर्देश दिए कि लंबे समय से अनुपस्थित शिक्षकों की जानकारी यदि उनके संज्ञान में आती है, तो संबंधित BEO के विरुद्ध कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने 15 दिवस में प्रत्येक संकुल में बैठक आयोजित करने के निर्देश दिए।

भृत्य और कर्मचारी निलंबित

जबलपुर में जाति प्रमाण-पत्र के वितरण के दौरान शराब पीकर छात्र-छात्राओं के साथ अभद्र व्यवहार करने के आरोप में शासकीय कन्या हाईस्कूल व्हीकल के एक भृत्य गोपाल बर्मन को निलंबित कर दिया गया है। यह कार्रवाई जिला शिक्षा विभाग की ओर से की गई। निलंबन अवधि में उसका मुख्यालय विकासखंड शिक्षा अधिकारी कार्यालय जबलपुर नियत किया गया है। अलीराजपुर के जोबट में विकासखंड के ग्राम सेवरिया बालक छात्रावास के अधीक्षक दीपसिंह चमका का महिला कर्मचारी के साथ अश्लील हरकत करते हुए वीडियो वायरल होने के बाद अलीराजपुर कलेक्टर राघवेंद्र सिंह ने अधीक्षक को निलंबित कर दिया है।

कर्मचारी-BLO निलंबित, 2 गार्ड की सेवा समाप्त

  • उज्जैन के श्री महाकालेश्वर मंदिर में आने वाले श्रद्धालुओं से रुपए लेकर दर्शन कराने का मामला सामने आने के बाद मंदिर समिति के निरीक्षक प्रदीप रठा को निलंबित कर दिया गया है। निरीक्षक प्रदीप रठा को निलंबित अवधि का भुगतान प्राप्त करने की पात्रता नहीं होगी।
  • वहीं, निजी कंपनी के सुरक्षा गार्ड की सेवाएं भी समाप्त करने के निर्देश दिए गए हैं।वही मंदिर की सुरक्षा में तैनात के एस एस कंपनी के सुरक्षाकर्मी अजय सिंह राजपूत और शिव नारायण की सेवाएं तत्काल समाप्त करने के लिए भी कंपनी के मैनेजर को निर्देश दिए हैं।
  • वही वोटर आईडी को आधार से लिंक करने के काम में लापरवाही करने पर उज्जैन कलेक्टर ने नगर निगम जोन में कार्यरत बीएलओ महेश मकवाना को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है।निलंबन अवधि में मकवाना का मुख्यालय तहसील निर्वाचन कार्यालय उज्जैन रहेगा।

3 पुलिसकर्मी निलंबित

दतिया एसपी अमन सिंह राठौड़ ने वारंट के काम में लापरवाही बरतने पर जिले के तीन अलग अलग थानों कोतवाली में पदस्थ प्रधान आरक्षक शिवकुमार राजावत, गोराघाट थाने में पदस्थ आरक्षक ईश्वर दत्त शर्मा और लांच थाने में पदस्थ आरक्षक आदिल खान को निलंबित कर दिया है।यह कार्रवाई शासकीय कर्मचारियों के समंस/वारंट की तामील के निर्देशों का पालन न कर कार्य मे लापरवाही बरतने पर की गई है। इस निलंबन अवधि में तीनों को पुलिस लाइन दतिया में अटैच किया गया है।