Neemuch News : बेमौसम बारिश और ओलावृष्टि से फसलों को भारी नुकसान, किसानों की बढ़ी टेंशन

मालवा की सबसे महत्वपूर्ण अफीम की फसल जिसे काला सोना के नाम से जाना जाता है। वह भी पानी से धूल गई है।

neemuch news

Neemuch News : मध्यप्रदेश के नीमच जिले में शनिवार की रात्रि में हुई बारिश ने किसानों के अरमानों पर भी पानी फेर दिया है। किसानों के खेतों में कटी पड़ी फसलों के साथ ही खेत मे लहलहाते गेंहू, अलसी को नुकसान पहुँचा है। वहीं मालवा की सबसे महत्वपूर्ण अफीम की फसल जिसे काला सोना के नाम से जाना जाता है। वह भी पानी से धूल गई है।

क्या है पूरा मामला

दरसअल, इन दिनों अफीम डोडे अपने पूरे यौवन पर है। अफीम खेतों में डोडा चिराई ओर लुवनी का काम चल रहा है। शनिवार दोपहर को अफीम किसानों ने अफीम डोडे पर चीरा लगाया था रात्रि में हुई बारिश से डोडे पर जमा अफीम का दूध बारिश के पानी से धूल गया। इस से किसान के मन मे भय है।

आपको बता दें कि अफीम का जो लाइसेंस केंद्र सरकार के द्वारा किसानों को दिया जाता है। ओर नारकोटिक्स विभाग द्वारा किसानों से अफीम का एक-एक ग्राम का हिसाब लिया जाता है। अफीम की मात्रा कम होने पर किसानों का पट्टा नारकोटिक्स विभाग द्वारा काटने का खतरा भी बना रहता है। तो कुल मिलाकर शनिवार को हुई बारिश ने किसानों के अरमानों पर पानी फेर दिया।

नीमच से कमलेश सारडा की रिपोर्ट


About Author
Amit Sengar

Amit Sengar

मुझे अपने आप पर गर्व है कि में एक पत्रकार हूँ। क्योंकि पत्रकार होना अपने आप में कलाकार, चिंतक, लेखक या जन-हित में काम करने वाले वकील जैसा होता है। पत्रकार कोई कारोबारी, व्यापारी या राजनेता नहीं होता है वह व्यापक जनता की भलाई के सरोकारों से संचालित होता है। वहीं हेनरी ल्यूस ने कहा है कि “मैं जर्नलिस्ट बना ताकि दुनिया के दिल के अधिक करीब रहूं।”

Other Latest News