खेत और फसल बेचकर की शादी, जेवर और कैश लेकर तीसरे ही दिन दुल्हन फरार

Avatar
Published on -

Neemuch-Robber Bride : मध्यप्रदेश के नीमच जिले के जावद थाना क्षेत्र स्थित एक परिवार में महज तीन दिन ससुराल में रही दुल्हन 3 लाख रुपए की ठगी कर रफूचक्कर हो गई। लुटेरी दुल्हन से जुड़ा यह मामला अठाना नगर स्थित वार्ड धाकड़ खेड़ी का बताया जा रहा है। घटना के बाद पीड़ित दुल्हे ने एसपी के समक्ष गुहार लगाई और मामले में कार्रवाई की मांग की।

शादी के तीन दिन बाद भागी लुटेरी  दुल्हन 
पीड़ित दूल्हे प्रहलाद पिता प्रभुलाल धाकड़ द्वारा पुलिस को की गई शिकायत के अनुसार राजगढ़ क्षेत्र के निवासी चाचा-भतीजा नारायणसिंह व गजराजसिंह ने दो माह पहले प्रहलाद धाकड़ को शादी कराने का झांसा दिया। ठग चाचा-भतीजा ने देवास निवासी राकेश (भैया) मिश्रा और मिश्रा की कथित बहन सरिता पिता बाबू पाटिल (25) से मिलवाया। युवक युवती ने एक-दूसरे को पसंद किया, उसके बाद 6 फरवरी को देवास न्यायालय परिसर में एक 500 रुपए के स्टांप पर दोनों ने अपनी सहमति दी। फिर खंडवा निवासी सरिता पिता बाबू पाटिल व अठाना निवासी प्रहलाद पिता प्रभुलाल धाकड़ ने शादी करने का अनुबंध किया। इस दौरान नारायणसिंह, गजराजसिंह व राकेश मिश्रा ने प्रहलाद से अलग-अलग समय में कुल 3 लाख रुपए नकद लिए। सरिता नामक लुटेरी दुल्हन प्रहलाद के साथ पहले नलखेड़ा, फिर अठाना अपने ससुराल पहुंच गई। यहां 2 दिन रहने के बाद सरिता ने अपने भाई के पास जाने की बात कही। इस पर प्रहलाद दुल्हन सरिता को बाइक से जीरन थाना अंतर्गत भाटखेड़ा फंटे पर ले गया। वहां पहले से ही एक कार खड़ी थी, जिसमें महिला वैन चालक समेत एक अन्य व्यक्ति सरिता का इंतजार कर रहे थे। सरिता वेन के समीप पहुंची, सरिता को संबंधितों ने वेन में बैठा दिया। इस दौरान प्रहलाद का मोबाइल भी सरिता के पास था।

फसल बेचकर मंगलसूत्र और पायल दिलाने थे-

फरार होने के पूर्व लुटेरी दुल्हन सरिता ने प्रहलाद से मंगलसूत्र और पायल दिलाने को भी कहा, जिस पर प्रहलाद ने आश्वासन दिया था कि, फसल पकते ही वह उसे मंगलसूत्र और पायल दिलाएगा। पीड़ित प्रहलाद ने नीमच एसपी को पूरे प्रकरण से अवगत कराते हुए लुटेरी दुल्हन और ठगों पर कार्रवाई करने की मांग की। पीड़ित से हड़पी गई राशि को दिलाने की मांग की।

खेत और मकान बेचकर जुटाए रुपए-

लुटेरी दुल्हन मोबाइल भी साथ लेकर फोरलेन मार्ग मंदसौर की ओर वेन से भाग निकली। प्रहलाद ने जब नारायणसिंह, गजराजसिंह व राकेश मिश्रा से संपर्क साधा तो आरोपियों के फोन बंद मिले। प्रहलाद ने बताया कि उसके पास सरिता से शादी करने के लिए रुपए भी नहीं थे, जिस पर अपनी कृषि भूमि और मकान को बेच कर रुपए की व्यवस्था की थी।

नीमच से कमलेश सारड़ा की रिपोर्ट 


About Author
Avatar

Harpreet Kaur

Other Latest News