Neemuch News: 24 मई को होगी शिव महापुराण कथा की पूर्णाहुति, 21 साल पहले जीरन का नाम इतिहास के पन्नो में हुआ था दर्ज

Sanjucta Pandit
Published on -

Neemuch News : नीमच के जीरन में 24 मई को शिवमहापुराण कथा की पूर्णाहुति होगी। इस अवसर पर श्री श्री 1008 अंतरराष्ट्रीय संत स्वामी श्री रामनिवास जी महाराज रामद्वारा मन्दसौर का आशीर्वचन भी प्राप्त होगा। इसके पहले सुबह 8 बजे किलेश्वर महादेव मन्दिर पर ध्वजारोहण और महाभिषेक का कार्यक्रम रहेगा। उसके बाद दोपहर 3 बजे से जीरन नगरवासियों एवं आसपास के शिवभक्तों के लिए महाप्रसादी महाभोज रखा गया है। जिसमें सैंकड़ों लोग शामिल होंगे।

आस्था का रचा इतिहास

 

बता दें कि इससे 21 साल पहले धार्मिक नगरी जीरन में एक इतिहास रचा गया था। दरअसल, नगर के प्राचीन किले में स्थित भगवान किलेश्वर महादेव मंदिर के प्राण प्रतिष्ठा, कलश आरोहण एवं उद्यापन कार्यक्रम में नगरवासियों के सहयोग से कीर्तिमानी लड्डू का निर्माण कर भगवान किलेश्वर महादेव को भोग लगाया गया था। केवल इतना ही नहीं, हजारों की तादाद में उस कीर्तिमानी लड्डू को प्रसाद रूप में पावन किया गया था। 24 मई 2002 वह ऐतिहासिक दिन है जिस दिन जीरन में आस्था का इतिहास रचा गया।

भक्तजन पहुंच रहे कथा सुनने

उसी ऐतिहासिक दिन को यादगार बनाने के लिए जीरन किलेश्वर महादेव मंदिर समिति द्वारा पिछले एक माह से आयोजन शुरू कर दिया गया है। जिसके लिए 22 अप्रैल से मन्दिर परिसर में अखंड रामायण चल रहा है। वहीं, 18 मई से मन्दिर परिसर में ही शिव महापुराण कथा का वाचन पंडित वासुदेव शर्मा बसेरा (राज) वाले मुखारविन्द से प्रतिदिन दोपहर 11 बजे से किया जा रहा है। कथा के इस भव्य आयोजन में जीरन नगर सहित आसपास के गांवों से सैकड़ों की तादाद में भक्तजन कथा सुनने पहुंच रहे है।

नीमच से कमलेश सारडा की रिपोर्ट


About Author
Sanjucta Pandit

Sanjucta Pandit

मैं संयुक्ता पंडित वर्ष 2022 से MP Breaking में बतौर सीनियर कंटेंट राइटर काम कर रही हूँ। डिप्लोमा इन मास कम्युनिकेशन और बीए की पढ़ाई करने के बाद से ही मुझे पत्रकार बनना था। जिसके लिए मैं लगातार मध्य प्रदेश की ऑनलाइन वेब साइट्स लाइव इंडिया, VIP News Channel, Khabar Bharat में काम किया है। पत्रकारिता लोकतंत्र का अघोषित चौथा स्तंभ माना जाता है। जिसका मुख्य काम है लोगों की बात को सरकार तक पहुंचाना। इसलिए मैं पिछले 5 सालों से इस क्षेत्र में कार्य कर रही हुं।

Other Latest News