जबलपुर HC में 4 माह बाद शुरू होगी फिजिकल हियरिंग, कोर्ट के अंदर जाने वाले इन बातों का रखें खास ध्यान

हाई कोर्ट में पेश होने वाले हर व्यक्ति को कोरोना गाइडलाइन का पलान करते हुए मास्क लगाना और साथ मे सेनेटाइजर रखना और दूरी बनाकर रखना अनिवार्य होगा।

जबलपुर, संदीप कुमार। कोरोना संक्रमण से बीते दो साल से पूरा विश्व प्रभावित हो रहा है। स्कूल-कालेजों सहित कई संस्थान बन्द पड़े हुए हैं। इस कोरोना महामारी से मध्यम और गरीब वर्गीय लोगों का व्यपार भी बहुत अधिक प्रभावित हुआ है। वहीं न्यायालय भी संक्रमण से अछूती नहीं रही है जिन्हें भी बंद करना पड़ा। हालांकि छोटे केसों में वरचुअल सुनवाई हो रही थी। वहीं अब हाईकोर्ट में करीब चार महीने बाद आज से सभी पीठ पर सुनवाई शुरू होने जा रही है।

ये भी देखें- 15 अगस्त से पहले कर्मचारियों को मिल सकता है DA का तोहफा, सैलरी में होगा बंपर इजाफा

मध्यप्रदेश हाई कोर्ट जबलपुर और उनकी खण्डपीठ इंदौर और ग्वालियर में भी कोरोना गाइडलाइन का पालन करते हुए सुनवाई लागू करने की व्यवस्था की जा रही है। हाई कोर्ट में पेश होने वाले हर व्यक्ति को कोरोना गाइडलाइन का पलान करते हुए मास्क लगाना और साथ मे सेनेटाइजर रखना और दूरी बनाकर रखना अनिवार्य होगा।

ये भी देखें- Bhopal News: आज से विधानसभा का मानसून सत्र, इन क्षेत्रों में लागू रहेगी धारा 144

कोरोना काल के चलते जहाँ पूरा देश अस्त-व्यस्त रहा है वहीं अब कुछ हालात सुधरने के बाद एक बार फिर से कोर्ट शुरू कर दी गई है। करीब 4 माह बाद हाई कोर्ट में फिजिकल सुनवाई होगी। इसके अलावा छोटे केसों की सुनवाई वरचुल रूप से निरन्तर सुनी जा रही है। जिला कोर्ट के हर गेट पर पुलिस बल को तैनात किया गया है। हाई कोर्ट की गाइडलाइन के मुताबिक कोरोना वैक्सीन का टीका नहीं लगने पर अंदर प्रवेश नहीं दिया जाएगा। वक़ील हो या पक्षकार सभी को कोरोना वैक्सीन का कम से कम एक डोज लगवाना अनिवार्य है तभी उन्हें हाई कोर्ट के अंदर जाने की एंट्री मिलेगी।