हीरे की लूट में शामिल 8 आरोपियों को पुलिस ने किया गिरफ्तार, दो नाबालिग भी

इन हीरो को छिपाने के लिए ये खाली कैप्सूल का इस्तेमाल करते थे। आरोपी के पास से पांच असली हीरे और ढाई सौ नकली हीरे, दो देशी कट्टे, दो जिंदा कारतूस और 15,000 रुपये नगद जप्त किए गए हैं ।

बैतूल, वाजिद खान। बैतूल पुलिस ने लूट की वारदात के बाद नकली और लो क्वालिटी के हीरे बेचने वाले गिरोह के आठ आरोपियों को गिरफ्तार किया है। जिसमें दो नाबालिग भी शामिल हैं। इस मामले में आरोपियों ने छिन्दवाड़ा के एक व्यापारी को पहले ठगने की कोशिश की लेकिन जब बात नहीं बनी तो उसे ही लूट लिया। मामले की पड़ताल में खुलासा हुआ कि आरोपी नागपुर से लो क्वालिटी के हीरे खरीदकर उन्हें असली बताकर व्यापारियों को ठगते थे। उनके पास से बरामद हीरो की कीमत 55 लाख बताई जा रही है।जिसे ढाई करोड़ में बेचने की योजना थी। इस मामले में व्यापारी की भूमिका की भी जांच की मांग की जा रही है।

दरअसल,  पिछले 31 मई को छिंदवाड़ा का व्यापारी प्रिंस सोनी बैतूल में जेवरात खरीदने के लिए पहुंचा था। यहां उसकी पकड़े गए आरोपियों से जेवर खरीदने की योजना थी । व्यापारी ने आरोपियों से ढाई लाख रुपए में 5 नग हीरे खरीदे थे। इस खरीद-फरोख्त के बाद व्यापारी ने आरोपियों से और हीरे खरीदने की इच्छा जताई। जिस पर आरोपी जब हीरे लेकर पहुंचे तो व्यापारी ने इन हीरों को नकली बताकर खरीदने से इनकार कर दिया। जिसके बाद आरोपी और व्यापारियों के बीच विवाद हो गया।  विवाद में आरोपियों ने बंदूक की नोक पर व्यापारी प्रिंस सोनी को लूट कर उसके पास से 5 नग हीरे और ढाई लाख रुपए लूट लिए।

ये भी पढ़ें – जन जागरूकता अभियान: सब्जी विक्रेता के पैर छूकर बोले ऊर्जा मंत्री “मास्क नहीं तो सामान नहीं”

एसपी सिमाला प्रसाद ने बताया कि फरियादी ने इस पूरे मामले की शिकायत बैतूल गंज पुलिस से की थी। जिसके बाद पुलिस ने इस मामले की पड़ताल के लिए एसडीओपी बैतूल नितेश पटेल के नेतृत्व में एसआईटी का गठन किया। एसआईटी ने जब मामले की पड़ताल की तो संदेही करण झारखंडे को गिरफ्तार किया गया। जिससे पूछताछ में यह बात सामने आई कि करण ने अपने साथी पिंटू नागले, शुभम गायकवाड ,रितिक चंद्रहास, पंकज कड़वे, रोहित मरकाम और दो अन्य नाबालिग बालकों के साथ मिलकर घटना को अंजाम दिया था।

हीरे की लूट में शामिल 8 आरोपियों को पुलिस ने किया गिरफ्तार, दो नाबालिग भी हीरे की लूट में शामिल 8 आरोपियों को पुलिस ने किया गिरफ्तार, दो नाबालिग भी

ये भी पढ़ें – भक्तों को भक्ति पड़ी भारी, कलश यात्रा निकालने पर मामला दर्ज

पुलिस के मुताबिक पकड़े गए आरोपियों से पूछताछ और पड़ताल में सामने आया कि यह सभी लोग नागपुर से लो क्वालिटी के हीरे खरीदकर उसे असली बताकर बेचा करते थे। इन हीरो को छिपाने के लिए ये खाली कैप्सूल का इस्तेमाल करते थे। आरोपी के पास से पांच असली हीरे और ढाई सौ नकली हीरे, दो देशी कट्टे, दो जिंदा कारतूस और 15,000 रुपये नगद जप्त किए गए हैं । पुलिस ने इस मामले में आरोपियों को लूट के आरोप में गिरफ्तार किया है।

हीरे की लूट में शामिल 8 आरोपियों को पुलिस ने किया गिरफ्तार, दो नाबालिग भी हीरे की लूट में शामिल 8 आरोपियों को पुलिस ने किया गिरफ्तार, दो नाबालिग भी

ये भी पढ़ें – MP में युवा कांग्रेस ने लगाया बाइक एक्सचेंज मेला, ये हैं कारण