Shivraj-Scindia के रद्द दौरे पर सियासत, पवैया का ट्वीट चर्चा में, कांग्रेस ने भी ली चुटकी

सियासत से जुड़े  लोग ज्योतिरादित्य सिंधिया के दौरे की घोषणा के बाद जयभान सिंह पवैया के ट्वीट और फिर दौरा रद्द होने की जानकारी की टाइमिंग की कड़ियों को जोड़ रहे हैं

Scindia shivraj

ग्वालियर, अतुल सक्सेना।  मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj Singh Chauhan) और राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया (jyotiraditya scindia) का 5  अप्रैल का मुंगावली में होने वाला कार्यक्रम रद्द होने के कारण सियासी बाजार गरमा गया है। कोई इसे करीला मेला प्रतिबन्धित करने से जोड़ रहा है तो कोई और बात कह रहा है, कांग्रेस ने भी दौरा रद्द होने पर चुटकी ली है उधर पूर्व मंत्री एवं कद्द्वार भाजपा नेता जयभान सिंह पवैया (Jaibhan Singh Pawaiya) का एक ट्वीट भी इसे लेकर चर्चा में है।

राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया (jyotiraditya scindia)  के ऑफिस ने उनके 4 और 5 अप्रैल के प्रस्तावित  दौरे की जानकारी 1 अप्रैल गुरुवार को मीडिया से साझा की और आज शनिवार 3 अप्रैल को सुबह इसके निरस्त होने की सूचना साझा कर दी। भाजपा ग्वालियर के संभागीय मीडिया प्रभारी ने ज्योतिरादित्य सिंधिया (jyotiraditya scindia)  का दौरा निरस्त होने की जानकारी देते हुए लिखा कि 5 अप्रैल को पोहरी एवं मुंगावली में होने वाला आयोजन भी निरस्त हो गया है। गौरतलब है कि राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया (jyotiraditya scindia) दो दिवसीय दौरे में ग्वालियर में कई जगह शोक संवेदनाएं व्यक्त करने जाने वाले थे साथ ही पोहरी और मुंगावली के सरकारी कार्यक्रमों में शामिल होने वाले थे।

 ये भी पढ़ें – सीएम शिवराज और सिंधिया का महत्वपूर्ण दौरा निरस्त, BJP विधायक ने बताया कारण

गौरतलब है कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj Singh Chauhan) 5 अप्रैल को मुंगावली विधानसभा में नल जल योजना का शुभारंभ करने जा रहे थे  उनके साथ राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया (jyotiraditya scindia) को भी कार्यक्रम में शामिल होना था लेकिन ये कार्यक्रम रद्द कर दिया गया। स्थानीय लोग इसे रंग पंचमी (Rang Panchami) पर इसी विधानसभा में प्रतिबंधित किये गए करीला मेले से जोड़कर देख रहे हैं मेले में लोगों को आने से रोकने के लिये प्रशासन ने तमाम इंतजाम किये थे। जबकि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj Singh Chauhan) के कार्यक्रम में भीड़ लाने के प्रयासों की चर्चा के बाद यह आयोजन विवादों में आ गया था।

ये भी पढ़ें – Indore News: विधायक पुत्र पर लगे संगीन आरोप, युवती की शिकायत पर दुष्कर्म का मामला दर्ज 

चर्चा थी कि एक तरफ प्रशासन करीला में भीड़ को रोकने के लिए तमाम प्रयास कर रहा था और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj Singh Chauhan) और ज्योतिरादित्य सिंधिया (jyotiraditya scindia) के कार्यक्रम के लिए भीड़ जुटाने के आयोजन किए जा रहे थे। इसी को लेकर उठ रहे विवादों के बाद यह माना जा रहा है कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj Singh Chauhan) और ज्योतिरादित्य सिंधिया (jyotiraditya scindia)  ने यह कार्यक्रम रद्द किया है। हालांकि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj Singh Chauhan)ने एक ट्वीट के जरिये इसका कारण स्पष्ट किया है।

उधर इस दौरे के रद्द होने की एक वजह पूर्व मंत्री एवं भाजपा के कद्दावर नेता जयभान सिंह पवैया (Jaibhan Singh Pawaiya) का एक ट्वीट भी माना  जा रहा है। सियासत से जुड़े लोग ज्योतिरादित्य सिंधिया (jyotiraditya scindia)  के दौरे की घोषणा के बाद जयभान सिंह पवैया (Jaibhan Singh Pawaiya)के ट्वीट और फिर दौरा रद्द होने की जानकारी की टाइमिंग की कड़ियों को जोड़ रहे हैं, ये जग जाहिर है कि ज्योतिरादित्य सिंधिया (jyotiraditya scindia) और जयभान सिंह पवैया (Jaibhan Singh Pawaiya) के बीच कितना वैचारिक मतभेद है।

आपको बता दें कि जयभान सिंह पवैया (Jaibhan Singh Pawaiya) ने ज्योतिरादित्य सिंधिया (jyotiraditya scindia) का दौरा कार्यक्रम घोषित होने के अगले दिन 2 अप्रैल को ट्वीट किया कि “म प्र सरकार को साधुवाद, कि होली भी मनी और गाइड लाइन का पालन भी कराया, माहौल सकारात्मक रहा। अब जनता की अपेक्षा है कि किसी भी दल के नेताओं के दौरों, क़ाफ़िलों में, सरकारी-ग़ैरसरकारी कार्यक्रमों में संख्या को लेकर वही सख़्ती दिखाई दे। महामारी के विरुद्ध लड़ाई में इसका संदेश अच्छा जाएगा। जयभान सिंह पवैया (Jaibhan Singh Pawaiya) के ट्वीट के बाद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj Singh Chauhan) और सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया (jyotiraditya scindia)  का सरकारी कार्यक्रम निरस्त हो गया।

वहीँ कांग्रेस ने भी ज्योतिरादित्य सिंधिया (jyotiraditya scindia)  का ग्वालियर दौरा निरस्त होने पर चुटकी ली है।  कांग्रेस प्रदेश प्रवक्ता नरेंद्र सलूजा ने ट्वीट करते हुए सिंधिया पर तंज कसा। नरेंद्र सलूजा ने लिखा “चर्चा ज़ोरों पर है कि दमोह उपचुनाव में प्रचार के लिये नहीं बुलाने से नाराज व अपनी किरकिरी से बचने के लिये श्रीमंत ने अपना 4-5 अप्रैल का ग्वालियर क्षेत्र का दौरा ही निरस्त कर दिया है। वैसे भी उनके इस दौरे में दमोह प्रचार का कोई कार्यक्रम नहीं था,प्रदेश में चुनाव और महाराज महल में?”