रायसेन: सामने आए ब्लैक फंगस के दो मरीज, एक की मौत एक स्वस्थ होकर घर लौटा

प्रदेश में ब्लैक फंगस के 1044 मरीज मिल चुके हैं। आंकड़ों के अनुसार ब्लैक फंगस मामलों में गुजरात के बाद मध्यप्रदेश दूसरे नम्बर पर हैं।

खरगोन, ब्लैक फंगस

रायसेन, दिनेश यादव। स्वास्थ्य मंत्री के गृह जिले रायसेन (raisen) में भी ब्लैक फंगस (black fungus) ने दस्तक दी। यहां पर दो ब्लैक फंगस के मरीज पाए गए। इन दोनों मरीजों में एक स्वस्थ होकर घर लौटा वहीं एक को जांच के बाद भोपाल (bhopal) भेजा गया था जिसकी इलाज के बाद मौत (death) हो गई हैं। रायसेन के ब्लैक फंगस के चलते मौत को मिलाकर प्रदेश में अब तक इस बीमारी से 30 की मौत हो चुकी हैं।

यह भी पढ़ें… जबलपुर: दो गुटों में खूनी विवाद, BJP नेता को मारी गोली, हालत नाजुक

मप्र में कोरोना के बाद ब्लैक फंगस की दस्तक अब हावी होती नजर आ रही है। प्रदेश में ब्लैक फंगस के 1044 मरीज मिल चुके हैं। आंकड़ों के अनुसार ब्लैक फंगस मामलों में गुजरात के बाद मध्यप्रदेश दूसरे नम्बर पर हैं। जहां 5 मेडिकल कालेजों में ब्लैक फंगस के  610 मरीजों का इलाज चल रहा हैं। वहीं शेष सरकारी अस्पतालों में भर्ती हैं ।

यह भी पढ़ें… दिग्गज BJP नेता का कोरोना से निधन, पार्टी में शोक की लहर

ब्लैक फंगस से अब तक मध्यप्रदेश के 30 लोगों की मौत हो चुकी हैं। रायसेन जिले में आज की तारीख में ब्लैक फंगस का कोई अन्य मरीज नही हैं। सिर्फ दो मरीज मिले थे जिसमें इलाज के दौरान एक ठीक होकर घर लौटा और एक को जांच के बाद भोपाल रेफर किया था जिसकी भोपाल में ही इलाज के दौरान मौत हो गई।

बाइट- उमाशंकर भार्गव कलेक्टर रायसेन