अव्यवस्थाओं की भेंट चढ़ा ‘मुख्यमंत्री कन्यादान योजना’ का सम्मलेन

Chief-Minister-Kanyadan-Yojna-sammelan-

 राजगढ़| मनीष सोनी| मध्यप्रदेश के राजगढ़ जिले में आज मुख्यमंत्री कन्यादान योजना के तहत 24 जोड़ों का सामूहिक विवाह सम्मेलन आयोजित किया गया। इस सम्मेलन का आयोजन खिलचीपुर जनपद पंचायत के द्वारा किया गया। लेकिन खिलचीपुर जनपद पंचायत अधिकारी द्वारा विवाह सम्मेलन में आये जोड़ों और उनके परिजनों के लिए कोई व्यवस्था नहीं की गई। जिसके चलते पूरा कार्यक्रम अव्यवस्थाओं की भेंट चढ़ गया|

मुख्यमंत्री कन्यादान योजना के तहत विवाह सम्मेलन में शिरकत करने वाले जोड़ों और उनके परिजनों के लिए भोजन की व्यवस्था की जाना चाहिए थी लेकिन जिम्मेदारों ने भोजन की कोई व्यवस्था नहीं की और नाश्ता देकर काम चला दिया। इतने बड़े आयोजन के लिए जनपद पंचायत ने विवाह सम्मेलन में आए लोगों के लिए पांडाल की भी व्यवस्था तक नहीं की। हा लेकिन जनपद के अधिकारियों के बैठने के लिए जरूर एक टेंट लगवाया गया| लेकिन दूल्हा दुल्हन व उनके परिजनों के लिए शादी करवाने आये लोगो के लिए टेंट के नाम पर कोई व्यवस्था नहीं, ऐसे में विवाह सम्मेलन में आए परिजनों ने वहां मौजूद पेड़ों की छाया में अपना समय व्यतीत करते हुए आयोजकों को कोसा।

जनपद पंचायत ने पीने के पानी के लिए एक टेंकर बुलवाया। एक टेंकर होने से उसमें पानी खतम होने पर लोगों ने टेंकर से गिर रही एक एक बूंद से अपनी प्यास बुझाई। जीवन में शादी के समय हर दूल्हा दुल्हन को बड़ी उम्मीदें रहतीं हैं, आर्थिक स्थिति ठीक न होने के कारण ये सामूहिक विवाह सम्मेलन में सरकारी मदद से विवाह के बंधन में बंधते हैं लेकिन जवाबदारों ने यहां भी हद कर दी,24 जोड़ों के लिए केवल एक तोरण लाया गया, एक तोरण होने से दूल्हे अपनी बारी आने का इंतजार करते रहे ।