पूर्व सांसद कांग्रेस के वरिष्ठ नेता प्रेमचंद गुड्डू ने दिया इस्तीफा, कमलनाथ और दिग्विजय सिंह पर लगाये गंभीर आरोप

Atul Saxena
Published on -
MP Election 2023, Former Congress MP Premchand Guddu resigns

MP Election 2023 : मप्र में मतदान की तारीख नजदीक है लेकिन कांग्रेस में मची उथल पुथल थम नहीं रही है, पार्टी के नेता सभी रूठों और बागी नेताओं को मनाने में सफल नहीं हो पाए हैं, ऐसे ही एक नाराज और बागी वरिष्ठ नेता ने पार्टी से इस्तीफा दे दिया है, पूर्व सांसद एवं कद्द्वर नेता प्रेमचंद गुड्डू ने कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड्गे को भेजे इस्तीफे में कमलनाथ और दिग्विजय सिंह पर गंभीर आरोप लगाये हैं।

पूर्व सांसद कांग्रेस के वरिष्ठ नेता प्रेमचंद गुड्डू ने दिया इस्तीफा, कमलनाथ और दिग्विजय सिंह पर लगाये गंभीर आरोप

कांग्रेस में जारी अंतर्कलह लगातार बाहर आ रही है, इसी महीने की 17 तारीख को मतदान होना है लेकिन कांग्रेस में नाराज नेताओं का आक्रोश नहीं थम रहा, आलोट विधानसभा सीट से टिकट मांग रहे पूर्व सांसद प्रेमचंद गुड्डू ने उनकी बात नहीं सुने जाने के बाद पहले निर्दलीय नामांकन फॉर्म दाखिल किया और फिर अब कांग्रेस की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दे दिया।

कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड्गे को भेजा इस्तीफा 

गुड्डू में कोंग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड्गे को भेजा इस्तीफे में पूर्व मुख्यमंत्री एवं प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ और पूर्व मुख्यमंत्री एवं राज्य सभा सदस्य दिग्विजय सिंह पर गंभीर आरोप लगाए हैं, उन्होंने लिखा दोनों नेताओं ने सर्वे को अनदेखी कर अपने समर्थकों को टिकट दे दिए, कांग्रेस में पट्ठावाद हावी है।

गुड्डू ने कमलनाथ और दिग्विजय सिंह पर साधा निशाना 

प्रेमचंद गुड्डू ने लिखा कि टिकट वितरण में बहुत अनियमितताएं की गई, दावा किया गया कि जीतने वाले को टिकट दिया जायेगा, जिसका सर्वे में नाम होगा उसे टिकट दिया जायेगा, इन बातों को लेकर कांग्रेस के पक्ष में जैसे ही माहौल बना वैसे ही कमलनाथ और दिग्विजय ने अपने समर्थकों के बीच टिकट का बंटवारा कर लिया।

गुड्डू का आरोप, पट्ठावाद के चलते काटा गया मेरा आरोप 

गुड्डू ने आरोप लगाया कि मैं सर्वे में आगे था, आलोट विधानसभा अनुसूचित वर्ग के लिए अरक्षित सीट है मैं यहाँ से विधायक रह चुका हूँ , उज्जैन रतलाम संसदीय क्षेत्र से सांसद रहा हूँ और आलोट विधानसभा सीट इसी संसदीय क्षेत्र का हिस्सा है, मेरा नाम आगे होने के बाद भी पट्ठावाद के चलते मेरा टिकट काट दिया गया अब मैं निर्दलीय चुनाव मैदान में हूँ और कांग्रेस की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा देता हूँ।

गुड्डू के मैदान में उतरने से मुकाबला त्रिकोणीय हुआ 

गौरतलब है कि प्रेमचंद गुड्डू के मैदान में उतरने से आलोट सीट का मुकाबला त्रिकोणीय हो गया है, भाजपा ने पूर्व सांसद चिंतामन मालवीय को टिकट दिया है जबकि कांग्रेस ने विधायक मनोज चावला को रिपीट किया है, मनोज को टिकट दिए जाने से ही प्रेमचंद गुड्डू नाराज हैं,  गुड्डू की गिनती कद्दावर नेताओं में की जाती है वे अनुसूचित जाति वर्ग से आते हैं , माना जा रहा है कि उनके कांग्रेस छोड़ने से अनुसूचित जाति वर्ग के वोटरों पर असर पड़ सकता है।


About Author
Atul Saxena

Atul Saxena

पत्रकारिता मेरे लिए एक मिशन है, हालाँकि आज की पत्रकारिता ना ब्रह्माण्ड के पहले पत्रकार देवर्षि नारद वाली है और ना ही गणेश शंकर विद्यार्थी वाली, फिर भी मेरा ऐसा मानना है कि यदि खबर को सिर्फ खबर ही रहने दिया जाये तो ये ही सही अर्थों में पत्रकारिता है और मैं इसी मिशन पर पिछले तीन दशकों से ज्यादा समय से लगा हुआ हूँ.... पत्रकारिता के इस भौतिकवादी युग में मेरे जीवन में कई उतार चढ़ाव आये, बहुत सी चुनौतियों का सामना करना पड़ा लेकिन इसके बाद भी ना मैं डरा और ना ही अपने रास्ते से हटा ....पत्रकारिता मेरे जीवन का वो हिस्सा है जिसमें सच्ची और सही ख़बरें मेरी पहचान हैं ....

Other Latest News