लोकायुक्त का शिकंजा, एसडीएम का रीडर रिश्वत लेते रंगेहाथों गिरफ्तार

Lokayukta-screws

रतलाम।

मध्यप्रदेश के रतलाम जिले में लोकायुक्त की टीम ने एसडीएम के रीडर को रिश्वत लेते हुए रंगेहाथों गिरफ्तार किया है। आरोप है कि रीडर ने नलकूप खनन की अनुमति देने के रिश्वत की मांग की थी। लोकायुक्त की टीम ने रीडर के खिलाफ भ्रष्टाचार अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया गया है।यह कार्रवाई उज्जैन लोकायुक्त की टीम द्वारा पूरी की गई है।

दरअसल,  जिले के सैलाना नगर में एसडीएम के रीडर मनीष विजयवर्गीय ने हरिवल्लभ बामनिया नामक शख्स से नलकूप खनन की अनुमति देने के लिए 5 हजार की रिश्वत की मांग की थी। लेकिन मामला तीन हजार में फिक्स हुआ। रीडर बामनिया पर रिश्वत के पैसों के लिए दबाव बनाता रहा। इसकी शिकायत उसने उज्जैन लोकायुक्त से की। लोकायुक्त की टीम ने आज गुरुवार सुबह योजना बनाकर रीडर को रंगेहाथों दबोच लिया। टीम द्वारा जब रीडर के हाथ धुलवाए गए तो वह गुलाबी हो गए।फिलहाल पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया है। लोकायुक्त की टीम मोके पर कार्रवाई कर रही है।टीम ने रीडर के खिलाफ भ्र्ष्टाटार अधिनियम के तहत मामला दर्ज कर लिया है।

लोकायुक्त का शिकंजा, एसडीएम का रीडर रिश्वत लेते रंगेहाथों गिरफ्तार