तब्लीगी जमात के राजस्थान और तेलंगाना से आए 10 लोग क्वारंटाइन

रतलाम ।सुशील खरे।

शहर में रुके हुए तब्लीगी जमात के 18 में से 10 लोगों को गुरुवार शाम मेडिकल कॉलेज में क्वारंटाइन कर दिया। इनका ब्लड और चेस्ट की एक्स-रे की जांच होगी। ये राजस्थान और तेलंगाना से मार्च में आए थे। दिल्ली मरकज में कोरोना पीड़ित मिलने के बाद मंगलवार को इनके शहर में होने की सूचना स्वास्थ्य विभाग को मिली थी। गुरुवार दोपहर विधायक ने प्रशासन को तब्लीगी जमात से जुड़े मामले को गंभीरता से लेने को कहा। शाम को 10 ऐसे बुजुर्गों की पहचान की, जिनकी उम्र 50 से 60 के बीच थी। उन्हें मेडिकल कॉलेज में क्वारंटाइन किया। एपेडिमियोलॉजिस्ट डॉ. प्रमोद प्रजापति ने 23 लोगों को क्वारंटाइन किया जा चुका है।

दरअसल, 32 लोग बाहर से आए थे, लॉकडाउन के पहले 14 चले गए बाकी यहीं फंस गए। मार्च में 32 लोग आए थे तब्लीगी जमात के अकेले मार्च में तब्लीगी जमात के 32 लोग शहर में आए थे। इनमें अजमेर से 8, वारंगल (तेलंगाना) से 10 लोग (पांच महिलाएं और पांच पुरुष), भोपाल से 4 और नसीराबाद के 10 लोग शामिल थे। ये जमात से जुड़ी शहर की 12 मसजिदाें और घरों में ठहरे थे। इनमें से लॉकडाउन के दौरान नसीराबाद और भोपाल जमात के 14 लोग वापस जा चुके हैं। बाकी के 18 ट्रेन बंद होने और सीमा सील होने से यहीं रह गए।