रीवा में पटाखा दुकानों का किया गया निरीक्षण, जिला स्तर पर आपदा प्रबंधन एवं नियंत्रण कक्ष स्थापित

आपदा प्रबंधन कंट्रोल रूम में नियुक्त किया गया है जोकि 24 घंटे संचालित रहेगा। कोई भी व्यक्ति कंट्रोल रूम को जानकारी दे सकता है।

Sanjucta Pandit
Published on -

Rewa News : बीते 6 फरवरी को हरदा फैक्ट्री में धमाका होने के बाद मध्य प्रदेश सरकार एक्शन मोड में है। बता दें कि इस घटना के बाद मुख्यमंत्री ने प्रदेश के सभी जिला कलेक्टरों को गोदाम और पटाखा फैक्ट्रियों का निरीक्षण कर व्यवस्थाओं को सुनिश्चित करने के निर्देश जारी किए थे। जिसका पालन सभी जिलों में किया जा रहा है। इसी कड़ी में रीवा कलेक्टर प्रतिभा पाल के निर्देश पर राजस्व और पुलिस अधिकारियों के संयुक्त दल द्वारा शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों के पटाखा और विस्फोटक व्यापारियों की दुकानों पर औचक निरीक्षण किया।

रीवा में पटाखा दुकानों का किया गया निरीक्षण, जिला स्तर पर आपदा प्रबंधन एवं नियंत्रण कक्ष स्थापित

दुकानदारों को समझाई गई गाइडलाइन

इस दौरान पटाखा दुकानदारों को जरूरी गाइडलाइंस समझाई गई। इसके अलावा, इस भयावह हादसे को ध्यान में रखते हुए कलेक्ट्रेट में जिला स्तर पर आपदा प्रबंधन एवं नियंत्रण कक्ष स्थापित की गई। जिसके लिए हेल्पलाइन नंबर भी जारी किया गया है।

अपर जिला दण्डाधिकारी ने दी ये जानकारी

नोडल अधिकारी अधीक्षक विनय मूर्ति शर्मा और सहायक अधीक्षक महेंद्र श्रीवास्तव को आपदा प्रबंधन कंट्रोल रूम में नियुक्त किया गया है जोकि 24 घंटे संचालित रहेगा। जिसमें अधिकारियों और कर्मचारियों की 4 पालियों में ड्यूटी लगाई गई है। कोई भी व्यक्ति कंट्रोल रूम को जानकारी दे सकता है। जिस पर त्वरित कार्रवाई भी की जाएगी- सपना त्रिपाठी, अपर जिला दण्डाधिकारी


About Author
Sanjucta Pandit

Sanjucta Pandit

मैं संयुक्ता पंडित वर्ष 2022 से MP Breaking में बतौर सीनियर कंटेंट राइटर काम कर रही हूँ। डिप्लोमा इन मास कम्युनिकेशन और बीए की पढ़ाई करने के बाद से ही मुझे पत्रकार बनना था। जिसके लिए मैं लगातार मध्य प्रदेश की ऑनलाइन वेब साइट्स लाइव इंडिया, VIP News Channel, Khabar Bharat में काम किया है। पत्रकारिता लोकतंत्र का अघोषित चौथा स्तंभ माना जाता है। जिसका मुख्य काम है लोगों की बात को सरकार तक पहुंचाना। इसलिए मैं पिछले 5 सालों से इस क्षेत्र में कार्य कर रही हुं।

Other Latest News