चित्रकूट अपहरण कांड: दोनों जुड़वां भाइयों के सकुशल मिलने की सूचना

-Chitrakoot-kidnapping-scandal--twin-brothers-founded-

सतना| चित्रकूट से अपह्त 6 साल के जुड़वां भाइयों के अपहरण मामले में मध्य प्रदेश पुलिस को बड़ी सफलता मिली है| अपहरण की वारदात के बाद दोनों जुड़वा भाइयों को उत्तर प्रदेश के बबेरू से सकुशल बरामद किया| शनिवार सुबह ही परिजनों और चित्रकूट वासियों ने पुलिस प्रशासन को अल्टीमेटम दिया था कि अगर 36 घंटे में मासूम नहीं मिले तो चित्रकूट में उग्र प्रदर्शन होगा| इस बीच खबर आई कि दोनों बच्चे मिल गए हैं|  बच्चों की तलाश में दो राज्यों की पुलिस और एसटीएफ सरगर्मी से जुटी हुई थी| 

दरअसल, सतना जिले के चित्रकूट के नयागांव थाना इलाके में 12 फरवरी नयागांव के एक स्कूल परिसर में तेल कारोबारी बृजेश रावत के जुडवां बेटे देवांश और शिवांस को बदमाश स्कूल परिसर से ही बंदूक की नोंक पर उठा ले गए। बच्चों की तलाश के लिए जहाँ पुलिस पर दवाब था, वहीं स्थानीय लोगों का आक्रोश बढ़ता जा रहा था| मामला राजनीतिक तूल भी पकड़ा और भाजपा कांग्रेस में डकैतों को लेकर बयानबाजी भी हुई| वहीं विधानसभा में भी मामला गूंजा| वहीं अप्रहत किए गए दो जुड़वां भाइयों के मामले में पुलिस को अहम सुराग मिले थे| पुलिस को यह जानकारी मिली थे कि किडनैपर उत्तर प्रदेश से हो सकते हैं| मामले में एमपी सरकार ने तत्काल यूपी सरकार के साथ मिलकर दल गठित कर दिया था| मुख्यमंत्री कमलनाथ ने भी मामले में संज्ञान लिया था. सीएम ने डीजीपी वीके सिंह से पूरे मामले की रिपोर्ट मांगी थी और अपहरणकर्ताओं को जल्द गिरफ्तार करने के दिए निर्देश दिए थे| जिसके बाद से इस मामले में पुलिस ने तेजी दिखाई थी|