MP News: लापरवाह कर्मचारियों को लेकर प्रशासन सख्त, कलेक्टर के आदेश पर 3 पटवारियों पर गिरी गाज

मध्य प्रदेश में अधिकारी कर्मचारियों द्वारा शासकीय कार्यों के प्रति लापरवाही देखी जा रही है। जिसके बाद राज्य शासन के आदेश पर लगातार इन लोगों के खिलाफ बड़ी कार्रवाई की जा रही है। वहीं प्रशासन तेजी से इनकी धड़पकड़ में लगा हुआ है।

कर्मचारियों

सतना, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश (Madhya pradesh) में शासकीय कार्यों के प्रति लापरवाही को लेकर कार्रवाई जारी है। लगातार ऐसे कर्मचारियों की धड़पकड़ हो रही है। जो अपने कर्तव्य के प्रति घोर लापरवाही बरत रहे। इसी बीच मध्य प्रदेश में 3 पटवारियों (patwari) को शासकीय कार्यों के प्रति उदासीनता दिखाने और घोर लापरवाही बरतने के बाद कलेक्टर (collector) ने तत्काल प्रभाव से निलंबित (suspended) कर दिया है।

दरअसल मामला मध्यप्रदेश के सतना (satna) जिले का है। कलेक्टर अजय कटेसरिया (Collector Ajay Katesaria) ने अमरपाटन तहसील (Amarpatan Tehsil) के पटवारी हरीश सोनी को निलंबित किया। हरीश सोनी पर आरोप है कि वो लगातार अपने कार्य के प्रति लापरवाह रहे हैं। इसके साथ ही हरीश सोनी को निलंबन अवधि तक के लिए अमरपाटन तहसील मुख्यालय के कार्यालय अटैच किया गया। जबकि रामपुर तहसील के बघेलान पटवारी दिनेश द्विवेदी को भी शासकीय कार्यों के प्रति लापरवाही बरतने के आरोप में कलेक्टर अजय कटेसरिया ने निलंबित करते हुए तहसील मुख्यालय रामपुर तलब किया है।

इसके साथ ही साथ तहसील रामपुर के राजस्व निरीक्षक मंडल के पटवारी नरेंद्र मिश्रा पर फर्जी ऋण पुस्तिका बनाकर देने तथा पद कर्तव्य के प्रति लापरवाही बरतने पर कलेक्टर अजय कटेसरिया द्वारा उन पर सिविल सेवा आचरण नियम 1966 के नियम 9 अंतर्गत कार्रवाई की गई है। पटवारी नरेंद्र मिश्रा को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर तहसील मुख्यालय कार्यालय, नागोद नियत किया गया है।

बता दें कि मध्य प्रदेश में अधिकारी कर्मचारियों द्वारा शासकीय कार्यों के प्रति लापरवाही देखी जा रही है। जिसके बाद राज्य शासन के आदेश पर लगातार इन लोगों के खिलाफ बड़ी कार्रवाई की जा रही है। वहीं प्रशासन तेजी से इनकी धड़पकड़ में लगा हुआ है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here