नरोत्तम का कमलनाथ को जवाब, हम 17 साल से सरकार मे, यही हमारा हिसाब

नरोत्तम मिश्रा

सतना, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश के गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने मंगलवार को उप चुनाव में सतना के रैगांव और निवाड़ी की पृथ्वीपुर विधानसभा में भाजपा प्रत्याशियों के समर्थन में एक के बाद एक आम सभाओं को संबोधित कर चुनाव प्रचार को गर्मा दिया। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ आज हमसे 15 साल का हिसाब मांगते है। 15 साल से जनता के आशीर्वाद से हमारी सरकार बन रही है। यही है हमारे काम का हिसाब। हम काम ही नही करते तो प्रदेश की जनता हम पर विश्वास ही क्यों करती।

Bhopal News: गटर के पानी से धुलकर आपके किचन तक पहुंच रही सब्जी! कलेक्टर के दिए जांच के आदेश

डॉ. मिश्रा ने सभाओं को संबोधित करते हुए कहा कि मैं प्रतिभा बागड़ी का समर्थन करने आया हूं। उनके समर्थन में आपसे मतदान की अपील करने आया हूं। मैं ये भी कह सकता हूं कि मैं उनकी गारंटी लेने आया हूं और उनकी जमानत भी देने आया हूं। क्या कोई कांग्रेसी अपने प्रत्याशी की गारंटी ले सकता। अगर गारंटी ले भी रहा है तो झूठ बोल रहा है। क्योंकि कांग्रेस किस पर गारंटी लेगी। अगर उनका प्रत्याशी जीत भी जाएगा, तो विकास कैसे होगा। डॉ. मिश्रा ने कहा, ये चुनाव ना सरकार बनाने का , ना सरकार गिराने का है। ये सिर्फ खाली हुई सीट का चुनाव है। ये विकास का चुनाव है। कांग्रेस पर निशाना साधते हुए डॉ. मिश्रा ने कहा, कांग्रेस के प्रत्याशी के जीतने पर रैगांव का भला नहीं होगा। लेकिन, कांग्रेस के प्रत्याशी के जीतने से किसी एक परिवार का भला हो सकता है। अगर भाजपा का प्रत्याशी जीतता है, तो रैगांव का भला होगा। क्योंकि इस वक्त मध्य प्रदेश और दिल्ली (केंद्र) में बीजेपी की सरकार है।

MP By- Election : दांव पर सियासी भविष्य, हार-जीत तय करेगी जनता किसके साथ

भाजपा के पास डबल इंजन की गाड़ी है।
डॉ. मिश्रा ने पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ और दिग्विजय सिंह पर निशाना साधते हुए कहा कि ये दोनों ही झूठे आरोप लगाकर वोट मांग रहे हैं। कमलनाथ जहां भी जाते हैं अपनी 15 महीने की सरकार की एक उपलब्धि नहीं गिनाते लेकिन हमसे 15 साल का हिसाब जरुर मांगते हैं। कमलनाथ जी क्या ये पर्याप्त नहीं है कि हम 15 साल से सत्ता में हैं। इसका मतलब जनता हम पर मुहर लगा रही है। हम लगातार सरकार में हैं। कमलनाथ जी ये है 15 साल का हिसाब। डॉ. मिश्रा ने कहा कि इस धरती पर दो लोगों को जनार्दन कहा जाता है। एक भगवान को दूसरा जनता को। जनता जनार्दन जब मुहर लगा देती है, तो इससे बड़ी कोई मुहर नहीं होती है। हमसे 15 साल का हिसाब मांग रहे हैं। कमलनाथ जी अपने विधायकों का हिसाब-किताब ठीक रखो। 27 महीने में 27 विधायक कांग्रेस छोड़ चुके हैं। कमलनाथ जी आपका गणित बिगड़ गया है।

MP उपचुनाव: वीडी शर्मा का बयान- मोदी राज में सबसे ज्यादा सुरक्षित अल्पसंख्यक

डॉ. मिश्रा ने कांग्रेस को डूबता जहाज बताते हुए कहा कि कांग्रेस अब बचने वाली नहीं है। आप दोनों सरकारों का नेतृत्व देख लो। कहाँ कमलनाथ और कहाँ शिवराज सिंह जी। इसी प्रकार कहाँ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और कहाँ राहुल गांधी।
डॉ. मिश्रा ने कहा,”मैं आपसे अपील करने आया हूं कि चुनाव के बाद जो फोन उठा ले उसी का झंडा उठा लेना। ये गलती मत करना की हमें (भाजपा) गाली देने वालों को वोट दे दो।” कमलनाथ से अपनी पार्टी नहीं चल रही है। सरकार नहीं चला सके। झूठ बोलकर सत्ता में आए। इनके राष्ट्रीय अध्यक्ष (त्तकालीन) राहुल गांधी ने चुनाव से पहले किसानों से वादा किया था कि सत्ता में आने के बाद किसानों का कर्ज माफ कर दिया जाएगा। बेरोजगारों का भत्ता दिया जाएगा। लेकिन किसी के खाते में कोई राशि नहीं है। डॉ मिश्रा ने कहा मैं कमलनाथ जी से पूछना चाहता हूं कि अगर आपका प्रत्याशी जीत भी जाता है तो विकास कैसे करोगे, पैसा कहां से लाओगे।

किसानों के लिए बड़ी खबर, PM Kisan स्कीम के बदले नियम! अटक सकती है 10वीं किस्त

रैगांव में डॉ. मिश्रा ने सभा को संबोधित करते हुए कहा, क्या आपने ऐसी राजनीतिक पार्टी देखी, जो भय की राजनीति करती है। जब सीएए आया तो कहा कि नागरिकता समाप्त हो जाएगी। किसान बिल आया तो कहा कि जमीनें समाप्त हो जाएंगी। कोरोना की वैक्सीन बनाई तो कहा कि नपुसंकता आ जाएगी। ऐसा भ्रमित नेतृत्व आपने देश के अंदर अब तक नहीं देखा होगा। ये भ्रमित विपक्ष है। आज कांग्रेस की स्थिति ऐसी है कि इनकी सरकार में आप उड़ता हुआ पंजाब देखो, डोलता हुआ राजस्थान देखो, ढगमगाता हुआ छत्तीसगढ़ देख लो। कांग्रेस अब रसातल की ओर जा रही है। कांग्रेस आने वाले चुनावों में जिन राज्यों में आज है, वहां भी देखने को नहीं मिलेगी। जहां-जहां चुनाव हुए वहां कांग्रेस जीरो पर आ गई।
डॉ. मिश्रा ने कहा कि जब प्रदेश में कमलनाथ जी की सरकार थी, तब लॉ एंड ऑर्डर की स्थिति बहुत खराब थी। आज हमारे लॉ-ऑर्डर को खराब करने की कोशिश की जा रही है। जब उज्जैन में पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाए गए तो दिग्विजय सिंह जी ने कहा था कि ये नारे पाकिस्तान जिंदाबाद के नहीं बल्कि काजी साहब जिंदाबाद के थे। ये कैसी कांग्रेस है। ये भ्रमपूर्ण राजनीति कर रही है। इसलिए मैं आपसे कहने आया हूं कि कांग्रेस पर विश्वास मत करना। आज कांग्रेस विधायक के बेटे को दुष्कर्म के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। ये कांग्रेस उत्तर प्रदेश में महिलाओं के हक की बात करती है। ये कांग्रेस का दोहरा चेहरा है। प्रियंका गांधी यहां पीड़िता से मिलने नहीं आई। न ही कोई कांग्रेसी नेता आया।