Satna News

सतना, डेस्क रिपोर्ट। मध्यप्रदेश (madhya pradesh) के सतना (satna) जिले से एक अजीब वाकया सामने आया है। जहां जिले के अलग-अलग इलाके से करीब आधा दर्जन किसान (farmers) हाईटेंशन टावर (hightension tower) पर चढ़ गए हैं। वही किसानों की मांग है कि जब तक उन्हें मुआवजा नहीं मिलेगा वह टावर से नहीं उतरेंगे और यदि किसी भी तरह की जबरदस्ती की गई तो वह टावर से कूद कर अपनी जान दे देंगे।

दरअसल मामला प्रदेश के सतना जिले का है। किसानों का आरोप है कि पावर ग्रिड (power greed) ने उनके खेतों में हाई टेंशन टावर लगा दिए लेकिन आज तक उन्हें उस जमीन का मुआवजा नहीं दिया गया है। जिसके बाद मेहर, उचेहरा और नागौर के कई किसान हाईटेंशन टावर पर चढ़ गए हैं। वही किसानों का कहना है कि जब तक मुआवजा नहीं दिया जाएगा वह टावर से नीचे नहीं उतरेंगे।

Read More: Accident: भोपाल में केचअप फैक्ट्री के बाॅयलर में विस्फोट, 5 घायल

इतना ही नहीं किसानों ने कहा कि अगर सरकार उनकी मांग को नहीं मानती है तो वह टावर से कूद कर अपनी जान दे देंगे। बता दें कि पावर ग्रिड कंपनी द्वारा किसानों की जमीन पर हाईटेंशन टावर लगाए गए हैं लेकिन अब तक किसानों को उन जमीनों का मुआवजा नहीं दिया गया है। जिसके बाद किसानो में नाराजगी देखी जा रही है।

इधर किसानों का कहना है कि उन्होंने अपनी इस मांग को लेकर धरना प्रदर्शन किया। इसके साथ ही साथ कलेक्टर को ज्ञापन भी सौंपा। बावजूद इसके कोई कार्रवाई नहीं की गई। वहीं किसानों का कहना है कि बिना मुआवजे की उनकी जिंदगी आर्थिक बोझ के तले दब गई है और यदि सरकार दोनों ने मुआवजा नहीं दिया जाता है तो वह टावर से नहीं उतरेंगे।