VIDEO: नर्मदा के घाटों पर पहुंचे हजारों साधु-संत, नदियों को बचाने का लिया संकल्प

भोपाल।

मध्यप्रदेश के सीहोर जिले में रेत के अवैध उत्खनन के खिलाफ नदी न्यास के अध्यक्ष कम्प्यूटर बाबा ने अनिश्चित कालीन धरना शुरु कर दिया है।बाबा के साथ सैकड़ों साधु-संत नर्मदा किनारे रेत अवैध उत्खनन को रोकने के लिए इस धरने में शामिल हुए है।शनिवार को जहां साधु-संतो ने नर्मदा के आंबाजदीद घाट पर रेत माफियाओं के खिलाफ मोर्चा खोलते हुए टैंट लगाकर पहरा दिया।इस दौरान सभी साधु संतों के बीच रेत के अवैध उत्खनन को लेकर चर्चा होती रही इसके बाद देर रात को यहां यज्ञ के अलावा भजन कीर्तन भी हुए।

वही आज रविवार को साधु-संतो ने नदी में उतरकर जमकर नारेबाजी की।मातश्री नर्मदा के पावन घाटों पर हजारों सन्त महात्मा पहुंचे। माँ के भजन कीर्तन के साथ साथ नदी संवर्धन के के लिए एकत्रित होकर सभी ने जीवन दायनी मां नर्मदा और सभी नदियों को बचाने का संकल्प लिया।।इस दौरान सपने हो रहे साकार,अब है प्रदेश में कमलनाथ सरकार के नारे भी लगाए गए।

कम्प्यूटर बाबा ने कहा कि   स्थिति भयंकर विकराल है ।माफिया और सरकार की सांठगांठ स्पष्ट उजागर हो रही है।  सीहोर और होशंगाबाद जिले से सटे नर्मदा तट पर जिले के प्रभारी मंत्री के संरक्षण में खुलेआम रेत का अवैध उत्खनन  मशीनों द्वारा किया जा रहा है । कम्प्यूटर बाबा ने मंत्रियों का नाम लिए बगैर इशारा करते हुए कहा कि सभी लोगों को पता है किन दो जिलों के प्रभारी मंत्री कौन हैं अगर सरकार ईमानदार है तो अवैध उत्खनन क्यों नहीं रुक रहा।कम्प्यूटर बाबा ने खनिज मंत्री प्रदीप जयसवाल और नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव को भी धरने में आमंत्रित किया है