अब अतिशेष शिक्षकों की लिस्ट में स्वर्गवासी शिक्षकों का नाम, विभाग में मचा हड़कंप

सीहोर।  जिला शिक्षा विभाग द्वारा जारी की गई अतिशेष शिक्षकों की सूचि में हद दर्जे की लापरवाही उस समय उजागर हुई, जबकि इन सूचियों में ऐसे शिक्षकों के नाम जुड़े दिखे जिनका स्वर्गवास हुए कई माह बीत चुके है। जैसे ही इस गडबड़ी की पोल खुली तो जिला शिक्षा विभाग में हड़कंप की स्थित निर्मित हो गई है।

दरअसल, स्कूली शिक्षा विभाग ने शालाओ में शिक्षकों की कमी की पूर्ति के लिए अतिशेष शिक्षकों की सूचि बनाकर शिक्षकों की कमी को दूर करने का प्रयास शुरू किया है। लेकिन इस  प्रक्रिया को लेकर शिक्षकों ने शुरू से ही गंभीर सवाल उठाये । अब जबकि सभी स्कूलो में मिड टर्म शुरू हो गया है। तब पठन – पाठन में लगे शिक्षको के स्थानातरण को लेकर सीहोर जिले में 160 अतिशेष शिक्षको की सूचि जारी किये जाने की प्रक्रिया जिला शिक्षा विभाग ने प्रारंभ की है। ऐसे में इस अतिशेष शिक्षको की सूचि में हद दर्जे की लापरवाही उस समय उजागर हुई जबकि इन सूचियों में ऐसे शिक्षको के नाम जुड़े दिखे जिनका स्वर्गवास हुए कई माह बीत चुके है। जैसे इस गडबड़ी की पोल खुली तो जिला शिक्षा विभाग में हडकंप की स्थित निर्मित हो गई है। सोंडा के शासकीय स्कूल में तत्कालीन प्रभारी प्राचार्य स्वर्गीय प्रवीण राय का नाम भी इस सूचि में दर्ज कर लिया गया। अब कर्मचारी नेता इस सूचि को निरस्त करने की मांग उठाने लगे है। 

उधर इस सूचि में बरती गई गंभीर खामियों के बाद जिला शिक्षा अधिकारी बैकफुट पर दिखे । उन्होंने खुद स्वीकारा की इन सूचियों में गडबडी की शिकायते उन्हें मिली है और कुछ मृत शिक्षको के नाम की जानकारी इन सूचियों में शामिल होने की जानकारी उन्हें मिली है इनको संशोधित कर हम नये सिरे से अतिशेष शिक्षको की सूचि जारी करेंगे ।