गांजा पकड़ने गई पुलिस पर हमला, 2 पुलिसकर्मियों समेत 4 घायल

शुजालपुर।

मध्यप्रदेश के शाजापुर जिले के शुजालपुर में गांजा पकड़ने पहुंची विदिशा पुलिस पर हमला हो गया, जिसमे दो पुलिसकर्मियों सहित चार घायल हो गए है। धरपकड़ से पहले व लहूलूहान होकर अस्पताल पहुँचने के बाद भी विदिशा पुलिस ने शुजालपुर पुलिस को जानकारी नहीं दी। शुजालपुर पुलिस ने तीन युवको पर जानलेवा हमले का मामला दर्ज किया है।

बीती मंगलवार रात 8 बजे शुजालपुर के पटलावदा मार्ग पर उगाह जोड़ के समीप माता मंदिर के सामने गांजा पकड़ने के लिए आए विदिशा पुलिस के दल पर तीन युवकों ने हमला कर दिया और चाकू मार दो पुलिसकर्मियों सहित चार लोगों को घायल कर फरार हो गए। लहूलुहान होकर निजी अस्पताल पहुंचे पुलिसकर्मियों ने दबिश के पहले व घटना के बाद भी स्थानीय पुलिस को सूचना नहीं दी। शुजालपुर पुलिस ने शासकीय कार्य में बाधा व पुलिस पर जानलेवा हमले के आरोप में तीन युवकों पर प्रकरण दर्ज किया है। बताया जा रहा है विदिशा अजाक थाना प्रभारी होकर खुद को क्राइम ब्रांच विदिशा के निरीक्षक बता रहे बीडी वीरा कुल 05 अन्य पुलिसकर्मियों के साथ स्कॉर्पियो क्रमांक एमपी 09 सीटी 7863 से गांजा तस्करी की सूचना मिलने पर शुजालपुर व अकोदिया पुलिस थाना इलाके के बीच लगने वाले पटलावदा मार्ग पर माता मंदिर के सामने पहुंचे थे। यहाँ रात करीब 7.30 बजे चौकी नाला की ओर से आई दो बाइक पर सवार युवको ने पुलिसकर्मियों पर चाकू से हमला कर घायल कर दिया। इस घटना में विदिशा साइबर सेल में पदस्थ प्रधान आरक्षक पवन जैन, पुलिसकर्मी हरिकिशन कुशवाह सहित पुलिस के सहयोगी सौदान सिंह बेलदार व आबूल खा को चोट आई है। इस दल में पुलिसकर्मी आरक्षक राजेश रघुवंशी, राकेश सेन, व महेश तिवारी भी शामिल थे। घटना के बाद घायल पुलिसकर्मी शहर के जश अस्पताल पहुंचे। मीडिया की सूचना पर स्थानीय अफसरों को घटना की जानकारी लगी। घटनास्थल पर भारी खून फैला हुआ था तथा लोगो के अनुसार स्कार्पियो वाहन करीब 1 घंटे से घटनास्थल पर खड़ा हुआ था। उसके बाद दो बाइक पर सवार होकर आए युवकों ने हमला किया। शुजालपुर पुलिस ने ग्राम चौकी नाला वाली निवासी नवल ठाकुर, युवराज ठाकुर व धारा सिंह ठाकुर के खिलाफ धारा 307, धारा 353 में मामला दर्ज किया है। सौदान सिंह का आपरेशन भी हुआ तथा घायल पुलिसकर्मियों को खून देने भी स्थानीय लोग पहुंचे, पुलिसकर्मी नही।

हमला हुआ तो इस तरह बनाई कहानी
विदिशा पुलिस ने शुजालपुर पुलिस थाना पर लिखित रिपोर्ट में बताया है कि नवल, युवराज, धारा सिंह बाइक से अवैध मादक पदार्थ बेचने के लिए बेरसिया रोड से खामखेड़ा के रास्ते विदिशा की तरफ आ रहे थे और सूचना मिलने पर विदिशा पुलिस ने साक्षी सौदान सिंह बेलदार, आबूल उर्फ कल्ला के समक्ष पंचनामा बनाया और धोललखेड़ी तिराहे पर घेराबंदी की। समय कम होने की वजह से संबंधित थाने को अवगत नहीं कराया तथा थोड़ी देर इंतजार करने के बाद दो बाइक आती दिखी जिस पर बीच में प्लास्टिक की एक बड़ी थैली रखी हुई थी। मुखबिर ने आरोपियों को पहचाना, तभी आरोपियों ने पुलिस की घेराबंदी देखकर दोनों मोटरसाइकिल वापस टार्न कर ली। जिसका प्राइवेट स्कॉर्पियो से स्टाफ व साथियों को बिठाकर लगातार पीछा करते हुए विदिशा पुलिस पटलावदा के समीप पहुंची।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here