MP विधानसभा चुनाव से पहले भाजपा को बड़ा झटका, 30 साल पुराने कार्यकर्ता एवं पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष जितेंद्र जैन ने छोड़ी पार्टी, लगाये सरकार पर गंभीर आरोप

Atul Saxena
Published on -

Shivpuri News : विधानसभा चुनाव से पहले भाजपा को ग्वालियर चम्बल संभाग में एक बड़ा झटका लगा है, पार्टी के 30 साल पुराने कार्यकर्ता और पूर्व जिला अध्यक्ष जितेंद्र जैन “गोटू” ने पार्टी से इस्तीफा दे दिया, उन्होंने प्रदेश अध्यक्ष के नाम अपना इस्तीफा लिखा और भेजकर उसे सार्वजनिक कर दिया, मीडिया से बात करते हुए जितेंद्र जैन ने सरकार प् र्गाम्भिर आरोप लगाये, उन्होंने कहा वे जल्दी ही बताएँगे कि वे कौन सी पार्टी ज्वाइन करने वाले हैं।

MP विधानसभा चुनाव से पहले भाजपा को बड़ा झटका, 30 साल पुराने कार्यकर्ता एवं पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष जितेंद्र जैन ने छोड़ी पार्टी, लगाये सरकार पर गंभीर आरोप

30 साल पुराने कार्यकर्ता का आरोप, बिना पैसे दिए नहीं होता अब कोई काम 

शिवपुरी जिले की कोलारस विधानसभा में पिछले 30 साल से सक्रिय रहे जितेंद्र जैन गोटू ने आज भाजपा को बाय बाय कर दिया, उन्होंने पार्टी और सरकार पर भ्रष्टाचार के गंभीर आरोप लगाये, मीडिया से बात करते हुए जितेंद्र जैन ने कहा कि आज इस बार की सरकार में हालात ये हो गए हैं कि बिना पैसे दिए कोई कम ही नहीं होता।

MP विधानसभा चुनाव से पहले भाजपा को बड़ा झटका, 30 साल पुराने कार्यकर्ता एवं पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष जितेंद्र जैन ने छोड़ी पार्टी, लगाये सरकार पर गंभीर आरोप

अपनी ही सरकार में काम के लिए पैसा देना पड़े, तो क्यों रहें ?

उन्होंने कहा कि यदि अपने कार्यकर्ताओं के काम के लिए अपनी ही सरकार में पैसा देना पड़े तो ऐसी सरकार और ऐसी पार्टी से जुड़े रहने का कोई मतलब नहीं है, उन्होंने कहा कि उन्होंने पार्टी स्तर पर कई बार इस मुद्दे को उठाया लेकिन कोई फर्क नहीं पड़ा इसलिए अब उन्होंने भाजपा को छोड़ दिया है।

जल्दी करेंगे घोषणा किस पार्टी का थामेंगे दमन 

कौन से पार्टी ज्वाइन करने के सवाल पर जितेंद्र जैन गोटू ने कहा कि इसका फैसला जल्दी होगा , मैं अपने कार्यकर्ताओं से सलाह कर फैसला लूँगा मेरे साथ उन्होंने भी पार्टी छोड़ी है रही बात चुनाव लड़ने की तो कोलारस मेरी कर्मस्थली है, फिर जिस पार्टी में जाऊंगा और जहाँ से टिकट देगी वहां से चुनाव लडूंगा और जनता की सेवा करूँगा।

शिवपुरी से शिवम पांडे की रिपोर्ट 


About Author
Atul Saxena

Atul Saxena

पत्रकारिता मेरे लिए एक मिशन है, हालाँकि आज की पत्रकारिता ना ब्रह्माण्ड के पहले पत्रकार देवर्षि नारद वाली है और ना ही गणेश शंकर विद्यार्थी वाली, फिर भी मेरा ऐसा मानना है कि यदि खबर को सिर्फ खबर ही रहने दिया जाये तो ये ही सही अर्थों में पत्रकारिता है और मैं इसी मिशन पर पिछले तीन दशकों से ज्यादा समय से लगा हुआ हूँ.... पत्रकारिता के इस भौतिकवादी युग में मेरे जीवन में कई उतार चढ़ाव आये, बहुत सी चुनौतियों का सामना करना पड़ा लेकिन इसके बाद भी ना मैं डरा और ना ही अपने रास्ते से हटा ....पत्रकारिता मेरे जीवन का वो हिस्सा है जिसमें सच्ची और सही ख़बरें मेरी पहचान हैं ....

Other Latest News