शिवपुरी में संकट के समय दीनदयाल रसोई पर लटके ताले

संकट के समय में यह रसोई सिर्फ नपा के कागजों में चालू है लेकिन वास्तव में बंद है।

शिवपुरी, शिवम पाण्डेय। कोरोना (Corona) जैसी महामारी के संकट के दौरान शिवपुरी (Shivpuri) में दीनदयाल रसोई योजना का कुछ दिनों पहले ही पुनः शुभारंभ किया गया था, जिसके तहत गरीब और जरूरतमंदों को भोजन उपलब्ध कराने की शुरुआत की गई थी लेकिन अब यहां पर सच्चाई कुछ और ही नजर आ रही है जहां नगर पालिका के कागजों में तो दीनदयाल रसोई चालू है लेकिन वास्तव में यहां ताले लगे हुए हैं।

यह भी पढ़ें…रतलाम मेडिकल कॉलेज की लापरवाही, परिजन ऑक्सीजन देने की लगाते रहे गुहार, मरीज ने गेट पर तोड़ा दम

जानकारी के अनुसार शिवपुरी में पिछले कुछ दिनों पहले दोबारा से शुरू की गई दीनदयाल रसोई पर इस समय ताले लटके हैं। इस कोरोना महामारी के दौरान इस समय मजदूर तबके को पेट भरने के लिए रोटी की जरूरत है लेकिन इस समय यह दीनदयाल रसोई बंद है। नगर पालिका के कुछ अधिकारियों ने इस रसोई के संचालन का जिम्मा चित्रांश संस्था को दिया था। लेकिन यह एनजीओ इस रसोई को नहीं चला पाया और कई दिनों से यह रसोई बंद है। वर्तमान में कोरोना संकट के समय चल रहे कर्फ्यू में आर्थिक रूप से कमजोर व मजदूर तबके पर भोजन की व्यवस्था नहीं है। ऐसे में यह रसोई ऐसे तबके के लिए मददगार हो सकती है लेकिन प्रशासनिक अधिकारियों को इसकी सुध नहीं है कि यह रसोई चालू भी है कि नहीं। रसोई बंद होने का कुछ भी कारण हो सकता है जैसे राशन की कमी या संस्था की लापरवाही पर सूत्र बताते हैं कि नगर पालिका द्वारा कागजों में अभी भी इसे चालू बताया जा रहा है।

यह भी पढ़ें…चुनाव आयोग का बड़ा फैसला-मप्र समेत इन राज्यों में होने वाले उपचुनाव टाले