वरिष्ठ भाजपा नेता विजय भारद्वाज हारे कोरोना से जंग, पत्नी भी अस्पताल में भर्ती

भारतीय जनता युवा मोर्चा के पूर्व जिलाअध्यक्ष विजय भारद्वाज भी कोरोना से अपनी जिंदगी की जंग हार गए, वरिष्ठ भाजपा नेता विजय भारद्वाज का मंगलवार को निधन हो गया।

शिवपुरी, शिवम पाण्डेय। पूरे देश में कोरोना (Corona) का कहर जारी है, जिसके चलते कई नेता-अभिनेता अपनी जान से हांथ धो बैठे है, वही पूरे मप्र (MP) के साथ ही शिवपुरी (Shivpuri) जिले में भी कोरोना का कोहराम जारी है, इसी के चलते कोरोना महामारी से जूझ रहे भारतीय जनता युवा मोर्चा के पूर्व जिलाअध्यक्ष विजय भारद्वाज भी कोरोना से अपनी जिंदगी की जंग हार गए, वरिष्ठ भाजपा नेता विजय भारद्वाज का मंगलवार को निधन हो गया।

यह भी पढ़ें…पूर्व सांसद और कांग्रेस नेता का कोरोना से निधन, सीएम और सिंधिया ने जताया शोक

जानकारी के मुताबिक ग्वालियर (Gwalior) के बिरला हॉस्पिटल में उनका इलाज चल रहा था, इलाज के दौरान बीजेपी नेता विजय का मंगलवार को निधन हो गया, वही उनकी पत्नी भी अभी अस्पताल में भर्ती हैं, प्रदेश के कई भाजपा नेताओं ने युवा मोर्चा जिला अध्यक्ष विजय भारद्वाज के निधन पर दुख जताया है, बता दें कि विजय भारद्वाज लंबे समय से जन सेवा में जुड़े हुए थे, वह बीजेपी के एक अनुभवी एवं कद्दावर राजनेता थे, वह युवा अवस्था से ही राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ से जुड़ गए थे, अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद में कई पदों पर रहे थे। वह शिवपुरी महानगर अध्यक्ष समेत बीजेपी कार्यकारिणी में विभिन्न पदों पर रहे और बाद में युवा मोर्चा जिला अध्यक्ष चुने गए।

आपको बता दें कि शिवपुरी जिले भर में कोरोना संक्रमण तेजी से फैल रहा है। शिवपुरी जिले में हालात ये है कि आरटीपीसीआर जांच में 100 सैंपल में 68 लोग संक्रमित निकल रहे हैं। सैंपल टेस्टिंग के नाम पर रैपिड एंटीजन टेस्ट (Rapid antigen test) की संख्या बढ़ा दी गई है जिसकी रिपोर्ट अधिक विश्वसनीय नहीं मानी जा रही। सिर्फ इतना ही नहीं, अब सैंपल लेने में ही आनाकानी की जा रही है। कई मरीजों को बिना सैंपल लिए ही समझा-बुझाकर लौटाया जा रहा है। जांच कराने पहुंच रहे लोगों से कहा जा रहा है कि वे दवाई ले लें और होम क्वारंटाइन (Home quarantine) हो जाएं। इससे वे ठीक हो जाएंगे। उन्हें सैंपल देने की जरूरत नहीं है। शिवपुरी जिले में करीब 40 से 50 फीसदी मरीजों को इसी प्रकार दवाइयां देकर बिना टेस्ट किए घर भेजा जा रहा है।

यह भी पढ़ें…कोरोना प्रभारी मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर का स्वास्थ्य ख़राब , सोशल मीडिया पर किया साझा