शिवपुरी: आत्महत्या के लिए प्रेरित करने को लेकर हवलदार सहित तीन लोगों पर केस दर्ज

खुदकुशी (Suicide) करने वाले हवलदार पुत्र के मामले में जांच के बाद एक कार्यवाहक हवलदार सहित तीन लोगों पर धारा 306 आईपीसी के तहत मामला दर्ज कर लिया है।

शिवपुरी, शिवम पाण्डेय। शिवपुरी (Shivpuri) शहर की कोतवाली पुलिस ने दो दिन पूर्व पुलिस लाइन में फांसी लगाकर खुदकुशी (Suicide) करने वाले हवलदार पुत्र के मामले में जांच के बाद एक कार्यवाहक हवलदार सहित तीन लोगों पर धारा 306 आईपीसी के तहत मामला दर्ज कर लिया है। बताया जा रहा है कि इस आरोपी हवलदार से कई अन्य लोग भी प्रताडि़त हैं।

यह भी पढ़ें….अशोकनगर: सड़कों पर उतरे एसडीएम, गली-गली घूमकर लॉकडाउन का लिया जायजा

जानकारी के मुताबिक दो दिन पूर्व पुलिस लाइन निवासी हवलदार कालूराम रघुवंशी के पुत्र प्रदीप रघुवंशी ने शुक्रवार की रात फांसी लगाकर जान दे दी। सुसाइड नोट (Suicide note) में प्रदीप ने डीएसबी शाखा में पदस्थ कार्यवाहक हवलदार प्रेम शर्मा, प्रदीप रावत व संजय शर्मा खजूरी वाले के नाम लिखते हुए अपनी मौत का जिम्मेदार इन लोगों को बताया था। प्रदीप ने सुसाइड नोट में बताया कि इन तीनों लोगों ने उसे व कई लोगों को मोटे ब्याज पर पैसे दिए हैं और उनके चैक लेकर उनको ब्लैकमेल कर परेशान करते हैं। सुसाइड नोट व परिजनों के बयानों के आधार पर कोतवाली पुलिस ने हवलदार प्रेम शर्मा सहित प्रदीप रावत व संजय शर्मा के खिलाफ दुष्प्रेरणा का मामला दर्ज कर लिया है। यहां बता दें कि हवलदार प्रेम कई सालों से ब्याज पर पैसे देने का काम करता है। कई लोग तो इससे परेशान होकर शहर तक छोड़ चुके है। कुछ लोग अपनी इज्जत के फेर में इसकी शिकायत करने से कतरा रहे हैं। पीडि़त परिजनों ने एफआईआर के बाद आरोपियों को जल्द गिरफ्तार करने की मांग की है।

यह भी पढ़ें….इंदौर : रेमडेसिवीर की कालाबाजारी को लेकर तीन के खिलाफ रासुका के तहत कार्रवाई

सुसाइड नोट में प्रदीप ने लिखा था ‘मैं प्रदीप रघुवंशी आज आत्महत्या कर रहा हूं क्योंकि मुझे कुछ लोग ज्यादा ही परेशान कर रहे हैं प्रदीप रावत जिसने मुझसे मेरे चेक ले लिए पिछली बार आईपीएल खेला था और हार गया था जबरदस्ती चेक ले लिए और स्टाम्प पर साइन करा लिया और अब वह हर जगह मेरी बेइज्जती करता है दूसरा नाम है प्रेम शर्मा जो पुलिस लाइन पूरी चौराहा वाली लाइन में रहते हैं और उन्होंने मुझे 10% ब्याज पर 3 साल से 30,000 रुपए दिए थे, पर अभी लॉकडाउन में सिस्टम बिगड़ गया तो रोज मुझे फोन कर धमकी देते हैं उनके मिस कॉल मेरे फोन पर चेक कर सकते हैं और एक और है संजय शर्मा खजूरी वाला जो 10 पर्सेंट ब्याज से पैसे देता है और मुझे जान से मारने की धमकी दे रहा है मेरा सारा बिजनेस वैसे ही लॉकडाउन में बर्बाद हो गया है और अब मैं बहुत परेशान हूं और आत्महत्या कर रहा हूं इसे आत्महत्या ना समझे इसे मर्डर ही समझे, मेरी विनती है रघुवंशी समाज व पुलिस प्रशासन से किन लोगों को सजा दिलाएं मेरे जैसे कितने लोग परिवार इन लोगों ने बर्बाद किए हैं मुझे इंसाफ जरूर दिलाना आपका प्यारा प्रदीप रघुवंशी।’

शिवपुरी: आत्महत्या के लिए प्रेरित करने को लेकर हवलदार सहित तीन लोगों पर केस दर्ज