Shivpuri News : साढ़े तीन करोड़ की चरस के साथ एक महिला साथ 3 तस्कर गिरफ्तार

पुलिस पकडे गए तीनों आरोपियों से पूछताछ कर रही है कि चरस कहां से लाते थे, किसे बेचा करते थे?

arrest

Shivpuri News : मध्यप्रदेश में अवैध मादक पदार्थ का कारोबार थमने का नाम नहीं ले रहा है। प्रदेश में अवैध मादक पदार्थ कारोबार चरम सीमा पर है, मिली जानकारी के मुताबिक, शिवपुरी पुलिस ने अवैध मादक पदार्थ को लेकर बड़ी कार्रवाई की है। जहाँ कोलारस थाना पुलिस ने 17 किलो 445 ग्राम चरस के साथ एक महिला सहित तीन एजेंटों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने पकडे गए तीनों आरोपियों के खिलाफ एनडीपीएस एक्ट के तहत मामला दर्ज किया है।

क्या है पूरा मामला

पुलिस द्वारा मिली जानकारी के अनुसार, कोलारस पुलिस ने मुखबिर की सूचना के आधार पर 19 मई की रात पड़ोरा पुल के नीचे खड़े होकर किसी वाहन का इन्तजार कर रहे दो पुरुषों के साथ एक महिला की तलाशी ली थी। तीनों के बैग की तलाशी लेने पर 17 किलो 445 ग्राम चरस बरामद की थी। पुलिस ने पकडे गए तीनों आरोपियों से पूछताछ कर रही है। जिससे असल चरस सप्लायर तक पहुंचा जा सके।

पूछताछ में एक आरोपी ने अपना नाम सुनील कुमार पुत्र राजेश्वरदास और दूसरे ने अपना नाम अवधेश दास पुत्र प्रकाश दास बताया था। दोनों आरोपी बिहार के मोतिहारी जिले थाना घोड़ा सहन, पकरी टोला के रहने वाले है। वहीं महिला ने अपना नाम बवीता देवी पत्नी अर्जुन प्रसाद बताया था। महिला भी बिहार के गोपालगंज जिले के बस स्टैंड क्षेत्र की रहने वाली है।

वही बताया जा रहा है कि पकड़े गए तीनों आरोपी मजदूर तबके के हैं। इन्हें तस्करों की ओर से हायर कर चरस की तस्करी कराई जा रही थी। ऐसे में एजेंट थोड़े अधिक पैसों के लालच में आकर तस्करी का काम करते हैं। जिनका रिकॉर्ड न होने पर पुलिस को भी इन पर शक नहीं होता है। फिलहाल पुलिस पकडे गए तीनों आरोपियों से पूछताछ कर रही है कि चरस कहां से लाते थे, किसे बेचा करते थे?

शिवपुरी से शिवम पांडेय की रिपोर्ट


About Author
Amit Sengar

Amit Sengar

मुझे अपने आप पर गर्व है कि में एक पत्रकार हूँ। क्योंकि पत्रकार होना अपने आप में कलाकार, चिंतक, लेखक या जन-हित में काम करने वाले वकील जैसा होता है। पत्रकार कोई कारोबारी, व्यापारी या राजनेता नहीं होता है वह व्यापक जनता की भलाई के सरोकारों से संचालित होता है।वहीं हेनरी ल्यूस ने कहा है कि “मैं जर्नलिस्ट बना ताकि दुनिया के दिल के अधिक करीब रहूं।”