लोकायुक्त पुलिस की बड़ी कार्रवाई, नार्दर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड के अधिकारी को 12 हज़ार की रिश्वत लेते हुए पकड़ा

Singrauli Lokayukta Police News : लोकायुक्त रीवा की टीम ने सिंगरौली जिले में गुरुवार सुबह को बड़ी कार्रवाई करते हुए नार्दर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड के दूधिचुआ परियोजना में असिस्टेंट मैनेजर के पद पर कार्यरत अभिषेक त्रिपाठी को घूस लेते हुए रंगे हाथ गिरफ्तार किया।अभिषेक त्रिपाठी से उनके आवास पर लोकायुक्त रीवा की टीम कड़ाई से पूछताछ कर रही है।

यह है मामला

मिली जानकारी के अनुसार, उमेश इंटरप्राइजेज के संचालक उमेश कुमार शाह ने एनसीएल अधिकारी अभिषेक त्रिपाठी की घूस मांगने की शिकायत रीवा लोकायुक्त विभाग से की थी। जिसमें उमेश शाह ने बताया था कि एनसीएल परियोजना में उनकी वाहन संविदा पर लगी हुई है, जिसके ₹480000 बिल भुगतान और ₹36000 सिक्योरिटी मनी निकालने की एवज में एनसीआर अधिकारी द्वारा घूस की मांग की जा रही थी।

लोकायुक्त पुलिस की बड़ी कार्रवाई, नार्दर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड के अधिकारी को 12 हज़ार की रिश्वत लेते हुए पकड़ा

उमेश शाह की शिकायत पर गंभीरता से संज्ञान लेते हुए रीवा लोकायुक्त की 12 सदस्यीय टीम ने आरोपी एनसीएल अधिकारी अभिषेक त्रिपाठी को उसके एनसीएल आवास से ₹12000 की घूस लेते हुए रंगे हाथों पकड़ लिया।बता दें कि एनसीएल दूधिचुआ परियोजना में कार्यरत असिस्टेंट मैनेजर अभिषेक त्रिपाठी को वेतन के रूप में लाखों रुपए मासिक मिलने के बावजूद रिश्वतखोरी की लत ने उसे सलाखों के पीछे पहुंचा दिया। यदि सघनता से जांच हो तो एनसीएल में संविदा पर लगी वाहन स्वामियों से चढ़ावे के रूप में बड़ा भ्रष्टाचार करने के घोटाले की बड़ा खुलासा हो सकता है।

इस पूरी कार्रवाई में मुख्य रूप से उप पुलिस अधीक्षक प्रवीण सिंह परिहार व राजेश पाठक, उपनिरीक्षक ऋतु शुक्ला, आकांक्षा पाण्डेय,प्रधान आरक्षक मुकेश मिश्रा, पवन पाण्डेय, आरक्षक शाहिद खान, सुजीत साकेत, सुभाष पाण्डेय सहित 12 सदस्यीय टीम की भूमिका सराहनीय रही।

सिंगरौली से राघवेन्द्र सिंह गहरवार की रिपोर्ट