उज्जैन में युवक ने कहा- सवारी निकाल कर दिखाओ, हिंदूवादी संगठन ने घेरा थाना, केस दर्ज

ujjain

Ujjain News: उज्जैन में बीती रात माहौल कुछ गहमागहमी भरा दिखाई दिया जब सोशल मीडिया पर एक युवक का वीडियो वायरल हुआ। जिसमें वह बाबा महाकाल की सवारी निकाल कर दिखाने की बातें बोल रहा था। यह वीडियो जैसे ही वायरल हुआ लोग सड़कों पर उतर गए और कार्रवाई की मांग कर थाने का घेराव कर दिया।

यह मामला तब शुरू हुआ जब खारा कुआं थाना क्षेत्र में एक युवती के साथ छेड़छाड़ और मारपीट की घटना हुई। जिसके विरोध में एक समुदाय के लोग पुलिस कंट्रोल रूम पर प्रदर्शन करने के लिए पहुंचे। यह लोग आरोपियों की गिरफ्तारी और उनके मकान पर बुलडोजर चलाने की मांग कर रहे थे। इसी बीच युवक ने विवादित बातें कही, जिसका वहां मौजूद लोगों ने भी समर्थन नहीं किया।

युवक ने क्या कहा

पुलिस कंट्रोल रूम पर प्रदर्शन के दौरान लड़की के साथ मारपीट और छेड़खानी करने वाले आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने की मांग को लेकर कांग्रेस नेत्री नूरी खान और कांग्रेस शहर अध्यक्ष धरने पर बैठे थे। तभी यह युवक महाकाल की सवारी निकाल कर दिखाने की धमकी देने लगा और कहने लगा कि आरोपियों को अगर गिरफ्तार नहीं किया जाता है, तारीख तय नहीं की जाती है कि घर कब तोड़ेंगे, तो सवारी निकाल कर दिखा दो।

युवक को नहीं मिला समर्थन

धरने के दौरान जब युवक ने इस तरह की बातें कही तो वहां मौजूद किसी भी व्यक्ति ने उसका समर्थन नहीं किया। लोगों ने यह कहा कि हम लड़की को न्याय दिलाने आए हैं। इस तरह से सवारी रोकने की बात कहना बिल्कुल गलत है। धरने को लीड कर रही कांग्रेस नेत्री नूरी खान ने खुद इस तरह की भाषा को निंदनीय बताया और कहा कि वह खुद सवारी का फूलों की बारिश कर स्वागत करेंगी। उन्होंने उज्जैन की गंगा जमुनी तहजीब को कायम रखने का भरोसा दिलाते हुए इस तरह के बयान का समर्थन ना करने की बात कही।

सड़क पर उतरे लोग

युवक का वीडियो जैसे ही सोशल मीडिया पर वायरल हुआ शहर के कई लोग बजरंग दल के नेतृत्व में अजाक थाने पर पहुंचे और प्रदर्शन करने लगे। इस दौरान टॉवर पर भी बड़ी संख्या में युवा इकट्ठा हो गए और बयान की निंदा करते हुए जय श्री राम और आ रही है पालकी बाबा महाकाल का उद्घोष करते दिखाई दिए।

शहर काजी ने की निंदा

जब युवक के इस वायरल वीडियो की जानकारी शहर काजी को लगी तो उन्होंने भी इसे निंदनीय बताया और प्रशासन को इसकी जांच करने की बात कही। वह कहते दिखाई दिए कि इस तरह से बोलना गलत बात है। मुस्लिम समाज शहर में आने वाले भक्तों का इस्तकबाल करता है।

प्रशासन की कार्रवाई

युवक का वीडियो वायरल होने के बाद शहर में जो स्थिति बनी उसे देखते हुए प्रशासन ने तुरंत ही कार्रवाई करते हुए प्राथमिकी दर्ज की, तब जाकर हिंदूवादी संगठन के लोग अजाक थाने से हटे। काफी देर तक शहर में गहमा गहमी का माहौल बना रहा और सभी जगह इस बात की निंदा की जाती रही।

युवक की माफी का वीडियो

इस पूरे हंगामे के बाद युवक का एक और वीडियो सामने आया है। जिसमें वह उज्जैन के तमाम पुलिस अधिकारियों, जनता महाकाल भक्तों और सभी लोगों से माफी मांगता हुआ दिखाई दे रहा है। युवक का कहना है कि हम खुद महाकाल बाबा के दर्शन करने आने वाले भक्तों का स्वागत करते हैं। मैंने जो बात कही वह पूरी तरह से गलत थी और मैं उसके लिए माफी मांगता हूं। हालांकि, अब भी युवक पर अलग अलग धाराएं लगाने की बात कही जा रही है।


About Author
Diksha Bhanupriy

Diksha Bhanupriy

"पत्रकारिता का मुख्य काम है, लोकहित की महत्वपूर्ण जानकारी जुटाना और उस जानकारी को संदर्भ के साथ इस तरह रखना कि हम उसका इस्तेमाल मनुष्य की स्थिति सुधारने में कर सकें।” इसी उद्देश्य के साथ मैं पिछले 10 वर्षों से पत्रकारिता के क्षेत्र में काम कर रही हूं। मुझे डिजिटल से लेकर इलेक्ट्रॉनिक मीडिया का अनुभव है। मैं कॉपी राइटिंग, वेब कॉन्टेंट राइटिंग करना जानती हूं। मेरे पसंदीदा विषय दैनिक अपडेट, मनोरंजन और जीवनशैली समेत अन्य विषयों से संबंधित है।

Other Latest News