जिले में कम बारिश से मंडराया जल संकट, नागरिक उपभोक्ता मंच ने CM को पत्र लिखकर की ये मांग

शहर में कम बारिश होने पर नागरिक उपभोक्ताह मंच ने मुख्य मंत्री से स्पेंशल पैकेज देने की मांग की है।

जबलपुर, संदीप कुमार। इस वर्ष मध्य प्रदेश के कई जिलों में औसत से कम बारिश होने के वजह से कई जिलों में अभी से ही पानी की समस्या दिखने को मिल रही है। इसी को देखते हुए नागरिक उपभोक्ता मंच ने जबलपुर जिले को सूखा घोषित करने की मांग राज्य सरकार से की है। इसको लेकर नागरिक उपभोक्ता मंच ने मुख्यमंत्री को एक पत्र लिखा है।

ये भी पढ़ें- डीजे बजाने को लेकर पुलिस और दुर्गा समिति सदस्यों के बीच झड़प, देर रात तक चला हंगामा

इस वर्ष जबलपुर जिले में महज 25 इंच बारिश दर्ज की गई है जो कि बीते साल की अपेक्षा आधी है। यही वजह है कि नागरिक उपभोक्ता मंच ने मुख्यमंत्री को एक पत्र लिखकर जबलपुर जिले को सूखाग्रस्त घोषित कर स्पेशल पैकेज दिए जाने की मांग भी की है। नागरिक उपभोक्ता मार्गदर्शक मंच के प्रांतीय संयोजक मनीष शर्मा ने बताया कि जबलपुर जिले में औसत बारिश 45 से 50 इंच होती है पर इस वर्ष 50% बारिश ही अभी तक दर्ज की गई जो पहले से काफी कम है। नागरिक उपभोक्ता मार्गदर्शक मंच के मनीष शर्मा की माने तो जबलपुर में लगभग 30 लाख की आबादी निवास करती है जो कि पानी के लिए खंदारी जलाशय, परियट जलाशय, नर्मदा नदी और बरगी बांध पर आश्रित है। यही नहीं जबलपुर सहित आसपास के कई जिले भी नर्मदा नदी और बरगी बांध पर आश्रित रहते हैं। लेकिन इस वर्ष कम बारिश के चलते अभी से ही पानी की किल्लत दिखने लगी है और अधिकांश क्षेत्रों में अभी से ही जल संकट की स्थिति बन रही है।