MP उपचुनाव 2020: इस सीट पर बीजेपी को बड़ा झटका, जगमोहन वर्मा ने दिया पार्टी से इस्तीफ़ा

जगमोहन वर्मा के इस्तीफे के कई राजनीतिक मायने निकल कर आ रहे है। उनके मुताबिक कई वर्षों से वे बीजेपी के लिए निस्वार्थ भाव से सेवा कर रहे है लेकिन उन्हें कुछ नही मिला

जगमोहन वर्मा

इंदौर, आकाश धोलपुरे। बीजेपी के बड़े नेता दिवंगत प्रकाश सोनकर के करीबी और सहकारिता प्रकोष्ठ के नगर संयोजक जगमोहन वर्मा ने बीजेपी की प्रथमिक सदस्यता से इस्तीफा दे दिया है। बताया जा रहा है कि शनिवार को बीजेपी राष्ट्रीय अनुसूचित जाति मोर्चा के सदस्य रह चुके जगमोहन वर्मा ने बीजेपी नगर अध्यक्ष गौरव रणदिवे को इस्तीफा सौंपा है और स्वेच्छा से पार्टी छोड़ने का एलान कर दिया।

बता दे कि जगमोहन वर्मा 70 के दशक से बीजेपी से जुड़े थे और पूर्व मंत्री प्रकाश सोनकर के बेहद खास रहे है। जब बीजेपी की ओर से प्रकाश सोनकर चुनाव लड़ा करते थे तब वर्मा सांवेर में सिलावट के खिलाफ जमकर विरोध कर बीजेपी को फायदा पहुंचाते थे।

ये भी पढ़े: MP उपचुनाव 2020 : कांग्रेस का दावा – सर्वे ने उड़ाई BJP की नींद

जगमोहन वर्मा के इस्तीफे के कई राजनीतिक मायने निकल कर आ रहे है। उनके मुताबिक कई वर्षों से वे बीजेपी के लिए निस्वार्थ भाव से सेवा कर रहे है लेकिन उन्हें कुछ नही मिला ऐसे में अब वो किसी अन्य दल से सांवेर उपचुनाव में चुनाव लड़ेंगे। बता दे कि सांवेर के ग्रामीण अंचलों में जगमोहन वर्मा की अच्छी पैठ है और ये ही वजह है कि अब यहां मुकाबला त्रिकोणीय हो सकता है। जिसका सीधा नुकसान तुलसी सिलावट को हो सकता है।

ये भी पढ़े: उपचुनाव का रण: अब बूथ की जंग में जुटेगी बीजेपी, मैदान में उतरेंगे दिग्गज

वही जगमोहन वर्मा यदि किसी अन्य पार्टी के टिकट पर चुनाव लड़ते है तो कांग्रेस के प्रेमचंद गुड्डू के लिए मुश्किलें बढ़ना स्वाभाविक है। दरअसल, ये बात इसलिए भी महत्वपूर्ण मानी जा रही क्योंकि सांवेर में किसी भी प्रत्याशी की जीत का अंतर 3 से 4 हजार मतों का ही रहता है लिहाजा, अब सांवेर की सियासत में बवाल मचने वाला है।

जगमोहन वर्मा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here