बीजेपी नेता लाल सिंह आर्य का बयान- कांग्रेस के लिए दलित सिर्फ वोट बैंक

आर्य ने कहा कि जिस तरह से कांग्रेस ने दलित महिला इमरती देवी का अपमान किया। इससे ना केवल उनका बल्कि सभी दलितों का अपमान हुआ है। वहीं लाल सिंह आर्य ने कहा कि हमारे इस मुद्दे को उठाने का सीधा मतलब यह है कि आखिर दलित समझे कि कांग्रेस उनके लिए क्या सोचती है।

लाल सिंह आर्य

ग्वालियर, डेस्क रिपोर्ट। पिछले दिनों अपने बयानों को लेकर चर्चा में आए अनुसूचित जाति मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष लाल सिंह आर्य (National President of Scheduled Caste Front Lal Singh Arya) ने एक बार फिर कांग्रेस (congress) पार्टी पर जमकर हमला बोला। उपचुनाव (Bye election) में सभा को संबोधित करने ग्वालियर (gwalior) पहुंचे लाल सिंह आर्य ने कहा कि कांग्रेस के लिए दलित सिर्फ वोट बैंक रहे हैं। जबकि बीजेपी (BJP) ने हमेशा दलित का विकास किया है।

ग्वालियर में मीडिया से बात करते हुए अनुसूचित जाति मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष लाल सिंह आर्य ने कहा कि बीजेपी के लिए दलित कभी भी वोट बैंक नहीं रहा। बीजेपी ने पंक्ति में अंतिम खड़े व्यक्ति के अधिकारों को भी सम्मान देने का कार्य किया है जबकि कांग्रेस ने हमेशा दलित का शोषण किया है। कांग्रेस के लिए दलित एक वोट बैंक से ज्यादा कुछ नहीं रहा। आर्य ने कहा कि जिस तरह से कांग्रेस ने दलित महिला इमरती देवी का अपमान किया। इससे ना केवल उनका बल्कि सभी दलितों का अपमान हुआ है। वहीं लाल सिंह आर्य ने कहा कि हमारे इस मुद्दे को उठाने का सीधा मतलब यह है कि आखिर दलित समझे कि कांग्रेस उनके लिए क्या सोचती है।

लाल सिंह आर्य ने कहा कि कांग्रेस का लक्ष्य जनता को धोखा देना और उनको भ्रमित करना है। जबकि हमारा लक्ष्य जनकल्याण है, क्षेत्र का विकास है। 2018 के चुनावों में कांग्रेस ने प्रदेश की जनता को फार्म भरवाए थे। वचन दिए थे कि किसानों का कर्ज माफ करेंगे, युवाओं को बेरोजगारी भत्ता देंगे। जबकि एक भी वचन पुरे नहीं किये गए। कांग्रेस दलित विरोधी है, गरीब विरोधी है, किसान विरोधी है, युवा विरोधी है, महिला विरोधी है, इसलिए इन उपचुनावों में कांग्रेस को इसका खामियाजा भुगतना पडे़गा। प्रदेश की जनता से कहा कि अगर भाजपा जीती तो संविधान खत्म हो जाएगा। आज उनके लोग विकास के लिए दूसरे दल में जा रहे हैं।

Read More: MP उपचुनाव : राहुल लोधी पर नरेंद्र सिंह तोमर का बड़ा बयान- हमारे पास कई प्लान

वहीं दूसरी तरफ राहुल लोधी और डाबर के बीजेपी में शामिल होने पर लाल सिंह आर्य ने कहा कि कांग्रेस पार्टी हमेशा से रीति और नीति की जनविरोधी रही है। कांग्रेस में नेताओं को सुना नहीं जाता है। जिस वजह से कांग्रेस एवं अन्य दल के लोग भाजपा में शामिल हो रहे हैं। भाजपा में किसी भी नेता को लालच नहीं दिया गया।  नेता कांग्रेस पार्टी से ही खफा है। जिस वजह से वह पार्टी को छोड़कर दूसरे पार्टी की तरफ रुख कर रहे हैं। लाल सिंह आर्य ने कहा कि मध्य प्रदेश की 28 की 28 सीटों पर कमल खिल रहा है। कांग्रेस के नेता हताश और निराशा में डूबे है।

बता दें कि 2018 के चुनाव में भाजपा को ग्वालियर-चंबल संभाग में दलित वोट की नाराजगी का सामना करना पड़ा था। इसके अधिकांश सीटों पर पार्टी को हार मिली थी। जिसके बाद से इस उपचुनाव में बीजेपी लगातार मोर्चाबंदी कर दलित वोटर्स को साधने का काम कर रही है। इसके साथ ही अनुसूचित जाति मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष लालसिंह आज ग्वालियर-चंबल संभाग सहित प्रदेश की 25 विधानसभा सीटों पर अनुसूचित जाति के साथ बैठक कर जनता के बीच पहुंचकर भाजपा के पक्ष में वोट देने की अपील कर चुके हैं। अब देखना है कि ऐसे में इस बार दलित वोट का बीजेपी की जीत पर क्या असर पड़ता है।