कमलनाथ का सिंधिया पर अटैक- BJP ने दूल्हा तो बना दिया, लेकिन जमाई नहीं बनाएंगे

उन्होंने कहा कि आज जिनके कारण पूरी दुनिया में मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) कलंकित हुआ है उन्हें BJP ने दूल्हा तो बना दिया लेकिन जमाई नहीं बनाएंगे।

ग्वालियर, अतुल सक्सेना। पूर्व मुख्यमंत्री एवं कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ (Kamal Nath) ने एक बार फिर कहा कि मैंने सौदे बाजी नहीं की ये शायद मेरी सबसे बड़ी गलती थी, क्योंकि मैं प्रदेश को कलंकित नहीं करना चाहता था। सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि आज जिनके कारण पूरी दुनिया में मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) कलंकित हुआ है उन्हें BJP ने दूल्हा तो बना दिया लेकिन जमाई नहीं बनाएंगे।

उन्होंने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह (Shivraj Singh Chauhan) को सलमान खान (Salman Khan) और शाहरुख खान (Shahrukh Khan) से बड़ा एक्टर बताते हुए कहा वे मुंबई (Mumbai) चले जाए और मध्यप्रदेश का नाम रोशन करें। वे मंगलवार की रात ग्वालियर  (Gwalior) में पार्टी प्रत्याशियों के समर्थन में सभाएं लेने आये थे। उनके साथ आये राजस्थान के पूर्व उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट (Sachin Pilot) के निशाने पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान रहे। सचिन पायलट ने कहा कि जनता ने 15 साल के कुशासन के बाद शिवराज जी को घर बैठा दिया था लेकिन वे पिछले दरवाजे से फिर सत्ता पर आ गए।

ग्वालियर विधानसभा से कांग्रेस प्रत्याशी सुनील शर्मा (Congress candidate from Gwalior Assembly Sunil Sharma) और ग्वालियर पूर्व विधानसभा से कांग्रेस प्रत्याशी सतीश सिंह सिकरवार (Congress candidate Satish Singh Sikarwar) के समर्थन में चुनावी सभा को संबोधित करने मंगलवार की रात ग्वालियर आये पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ के निशाने पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया रहे।

कमलनाथ ने कहा कि मुझे जब शिवराज सिंह ने प्रदेश की सत्ता सौंपी थी तब भृष्टाचार, बेरोजगारी, महिला अपराध, माफिया राज सब में मध्यप्रदेश प्रदेश नंबर वन था। किसान आत्महत्या कर रहे थे युवा रोजगार के लिये तरस रहे थे। 15 साल में मध्यप्रदेश का बुरा हाल कर दिया था। मुझे लगा था कि जनता ने घर बैठा दिया तो शिवराज झूठ बोलना कम कर देंगे लेकिन ये तो शाहरुख खान और सलमान खान से बहुत बड़े एक्टर हैं इन्हें तो मुंबई जाना चाहिए। ये मुझसे 15 महीने का हिसाब मांगते है। मुझे तो साढ़े ग्यारह महीने ही काम करने का मौका मिला, बाकी समय आचार संहिता और आपकी सौदेबाजी में निकल गया। मैं तो मुख्यमंत्री था सौदेबाजी कर सकता था लेकिन आपने सौदेबाजी कर मध्यप्रदेश को कलंकित कर दिया आज देश में कहीं भी जाओ लोग कहते हैं आप उसी मध्यप्रदेश से आये हैं जहाँ राजनीति बिकाऊ है?

कमलनाथ ने कहा कि शिवराज सिंह और भाजपा ने हालात ये कर दिये हैं कि अब नगर निगम का चुनाव नहीं लड़ना होगा बोली लगाओ पार्षद बन जाओ, सरपंच का चुनाव नहीं लड़ना पड़ेगा बोली लगाओ सरपंच बनाओ।उन्होंने ज्योतिरादित्य सिंधिया पर निशाना साधते हुए कहा कि आप तो महाराजा हैं यहाँ के, ग्वालियर चंबल कि जनता को अपनी प्रजा कहते हैं आपने क्या किया, क्यों विकास नहीं हुआ। चालीस साल पहले मध्यप्रदेश की पहचान ग्वालियर के नाम से होती थी लेकिन आज इंदौर, भोपाल और जबलपुर से होती है। पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि 3 तारीख के बाद ना ये मंच होगा, ना झंडे ना बैनर, कौन होगा कमलनाथ होगा और फिर जेसी मिल के श्रमिकों जी समस्या दूर होगी, ग्वालियर फिर अपनी पहचान वापस पायेगा। कमलनाथ ने कहा कि मेरे ग्वालियर नहीं आने पर ताने देते हैं।हाँ मैं नहीं आया अरे सिंधिया जी आप तो महाराजा है फिर आपने क्यों विकास नही किया? आज सिंधिया जी भाजपा के नेता हैं लेकिन याद रखिये भाजपा ने उन्हें दूल्हा तो बना दिया लेकिन जमाई नहीं बनाएंगे।

कमलनाथ के साथ मंच पर मौजूद राजस्थान के पूर्व उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट ने कहा कि मुझसे कमलनाथ जी ने कहा था क्या आप उप चुनाव में मध्यप्रदेश आयेंगे तो मैंने कहा था कि सीना ठोंक कर आऊंगा। यहाँ जिस तरह से लोकतंत्र को कलंकित किया गया है वो जनता के सामने लाना जरूरी हैं आज भाजपा ने मध्यप्रदेश कि पहचान बिकाऊ राजनीति वाले प्रदेश की बना दी है। उन्होंने कहा कि 15 साल के कुशासन के बाद जनता ने शिवराज सिंह चौहान को बाहर का रास्ता दिखाकर घर बैठा दिया था लेकिन वे पिछले दरवाजे से फिर आ गए। अरे कौन नहीं जानता डंपर घोटाला, व्यापम कांड, रेत कांड ना जाने कितने कांड हुए इस मध्यप्रदेश में। सचिन पायलट ने कहा कि जब मुझे राजस्थान प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष की कमान सौंपी गई थी तब वहाँ 27 सीटों पर उप चुनाव हुए थे उसमें से 25 पर भाजपा का कब्जा था, फिर परिणाम क्या हुआ पूरा देश जानता है। इसलिए मेरा शगुन अच्छा है। आप और हम सब मिलकर कांग्रेस के हाथ मजबूत करेंगे और फिर से कमलनाथ जी को मुख्यमंत्री बनाएंगे। सभा में आचार्य प्रमोद कृष्णन , कमलनाथ के पुत्र एवं छिंदवाड़ा के सांसद नकुलनाथ, पूर्व मंत्री पी सी शर्मा,पूर्व मंत्री लाखन सिंह सहित कई वरिष्ठ नेता मौजूद थे