कर्मचारियों के लिए अच्छी खबर, जुलाई के लिए बढ़ेगा DA, सैलरी में वृद्धि तय, नए वेतन आयोग का जल्द मिलेगा लाभ! खाते में आएंगे इतने रुपए

7th cpc, Employees DA Hike, DA Arrears, 8th Pay Commission : कर्मचारियों के लिए बड़ी खबर है। दरअसल जल्दी उनके वेतन में बड़ी वृद्धि देखी जाएगी। जुलाई महीने के लिए महंगाई भत्ते को बढ़ाया जाना है। महंगाई भत्ते की दर में 4 फीसद का इजाफा किया जा सकता है। अखिल भारतीय उपभोक्ता मूल्य सूचकांक और उपभोक्ता खाद्य मूल्य सूचकांक के तहत जारी आंकड़ों में कर्मचारियों के चार फीसद के महंगाई भत्ते में वृद्धि तय मानी जा रही है। ऐसे में महंगाई भत्ते की दर बढ़कर 46% हो जाएगी। अगस्त से पहले सरकार द्वारा इसकी घोषणा की जा सकती है।

42 फीसद की दर से महंगाई भत्ता उपलब्ध कराया जा रहा

केंद्र सरकार के कर्मचारियों के महंगाई भत्ते और पेंशन भोगियों के महंगाई राहत की दरों में वृद्धि की तैयारी कर ली गई है। वर्तमान में केंद्रीय कर्मचारियों को 42 फीसद की दर से महंगाई भत्ता उपलब्ध कराया जा रहा है। एआईसीपीआई आंकड़े के तहत महंगाई भत्ते में 4 फीसद का इजाफा तय माना जा रहा है। सूत्रों के मुताबिक महंगाई पर महंगाई राहत की घोषणा होने में ज्यादा देरी नहीं होगी। अगस्त से पहले सरकार द्वारा इसकी घोषणा की जा सकती है। महंगाई भत्ते में वृद्धि के साथ ही कर्मचारियों के वेतन में बड़ा इजाफा देखा जाएगा।

8वें वेतन आयोग को लागू करने की मांग

वहीं सरकार ने भले ही 8वें वेतन आयोग को लेकर अभी तक कोई संकेत नहीं दिया है लेकिन कर्मचारी संगठन द्वारा इसके लिए मांग शुरू कर दी गई है। रेलवे के सोसाइटी ने वित्त मंत्री को प्रस्ताव भेजा है। जिसमें 8वें वेतन आयोग को लागू करने की मांग की गई है। इसमें कहा गया है कि अब समय आ चुका है कि सरकारी कर्मचारियों के हितों को देखते हुए 8वें वेतन आयोग गठित किया जाए। प्रस्ताव में महंगाई भत्ता अगले साल 50 से पार जाने की बात भी कही गई है।

फाइनेंशियल एक्सप्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक रेलवे के सीनियर सिटीजन वेलफेयर सोसाइटी ने वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण को पत्र लिखा है 8 वीं वेतन आयोग गठित करने की अपील करने के साथ ही सोसाइटी ने कहा है कि 1 जनवरी 2024 से महंगाई भत्ता बढ़कर 50 फीसद के पास चला जाएगा। ऐसे में तीनों केंद्रीय वेतन आयोग ने अपनी सिफारिश में कहा है के भविष्य में वेतन का रिवीजन तभी होना चाहिए जब महंगाई भत्ता और महंगाई राहत बढ़कर मूल वेतन का 50 फ़ीसदी से ज्यादा हो जायेगा। इसी सिफारिश के तहत 30 मई को वित्त मंत्री के पास ज्ञापन भेजा गया है।

सोसायटी द्वारा दिए ज्ञापन में कहा गया कि महंगाई के असर को समाप्त करने के लिए सैलरी का रिवीजन आवश्यक है। जनवरी 2024 से महंगाई भत्ता मूल वेतन का 50% पहुंच जाएगा और इसके सापेक्ष सैलरी की समीक्षा किया जाना आवश्यक है। ऐसे में माना जा रहा है कि केंद्र सरकार जल्दी 8 वीं वेतन आयोग की घोषणा कर सकती है। हालांकि इसे लागू 2026 तक किए जाने की संभावना जताई जा रही है।

इतना बढ़ेगा वेतन

किसी कर्मचारी की सैलरी अगर ₹85500 है तो 46 फीसद के हिसाब से उनके महंगाई भत्ते बढ़कर ₹3420 हो जाएंगे। ₹100000 की बेसिक सैलरी वाले कर्मचारियों के खाते में हर महीने ₹4000 से अधिक के महंगाई भत्ते देखने को मिलेंगे। मूल वेतन ₹18000 होने पर 46 फीसद महंगाई भत्ते के हिसाब से कर्मचारियों को हर महीने ₹720 का लाभ मिलेगा। ऐसे में सालाना उनके डीए में ₹8280 तक की वृद्धि देखने को मिलेगी।

फिटमेंट फैक्टर को भी बढ़ाया जा सकता

8 वीं वेतन आयोग के तहत ही फिटमेंट फैक्टर को भी बढ़ाया जा सकता है। फिटमेंट फैक्टर वर्तमान में 2.57 है। जिसे बढ़ाकर 3.68 किए जाने की मांग की जा रही है। वही कर्मचारियों की बेसिक सैलरी 18000 से बढ़कर 26000 हो जाएगी। वहीं केंद्र सरकार की तैयारी के मुताबिक इसे 3 गुना बढ़ाया जा सकता है। जिसके साथ ही बेसिक सैलरी 18 हजार से बढ़कर 21000 तक हो सकती है।


About Author
Kashish Trivedi

Kashish Trivedi

Other Latest News