कर्मचारियों को दीवाली से पहले मिलेगी गुड न्यूज, जानें कितनी बढ़कर आएगी सैलरी

इसके बाद 11 फीसद वृद्धि के साथ भत्ता दिया जाएगा। एक जुलाई, 2021 से 31 अगस्त, 2021 तक महंगाई भत्ते के एरियर का नकद भुगतान किया जाएगा।

कर्मचारियों

देहरादून, डेस्क रिपोर्ट। एक तरफ मध्य प्रदेश के सरकारी कर्मचारियों (Government Employees) को खुशखबरी का इंतजार है। वही दूसरी तरफ केंद्र की तर्ज पर अलग अलग राज्यों में महंगाई भत्ते की सौगातों का सिलसिला जारी है। हाल ही उत्तराखंड सरकार (Uttarakhand Government) ने राज्य के कर्मचारियों 11 प्रतिशत महंगाई भत्ते की सौगात दी है, इस बढ़़ोतरी के साथ कर्मचारियों का संशोधित भत्ता 28 प्रतिशत हो गया है। यह एक जुलाई से देय होगा। इससे सरकार पर 1800 करोड़ रुपए का सालाना व्यय भार बढ़ेगा और प्रदेश में 3 लाख सरकारी कर्मचारियों और पेंशनरों को फायदा मिलेगा।

यह भी पढ़े.. MP Weather : 24 घंटे बाद बदलेगा मप्र का मौसम, 17 जिलों में भारी बारिश का अलर्ट

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट फैसले (Cabinet Decision) के अनुसार, एक जनवरी, 2020 से 30 जून, 2021 तक की अवधि में महंगाई भत्ते की दर मूल वेतन का 17 फीसद रहेगी। इसके बाद 11 फीसद वृद्धि के साथ भत्ता दिया जाएगा। एक जुलाई, 2021 से 31 अगस्त, 2021 तक महंगाई भत्ते के एरियर (DR/DR) का नकद भुगतान किया जाएगा। इस फैसले से तकरीबन 1.6 लाख कर्मचारी और 1.5 लाख पेंशनर्स को लाभ मिलेगा।इसके अलावा 1 सितंबर से महंगाई भत्ते का भुगतान नियमित वेतन के साथ किया जाएगा। अंशदायी पेंशन योजना से आच्छादित कार्मिकों के पेंशन अंशदान नियोक्ता के अंश के साथ नई पेंशन योजना के खाते में जमा की जाएगी। शेष धनराशि नकद भुगतान की जाएगी।

मीडिया रिपोर्ट्स के मानें तो बेसिक सैलरी (Salary Hike) न्‍यूनतम 18,000 रुपए महीना है तो वर्तमान महंगाई भत्ता (17%)= 3060 रुपए और बढ़ा हुआ DA 11 फीसद मतलब 1980 रुपए महीना हो जाएगा।इससे कुल DA (28 फीसद) अब मिलेगा =5040 रुपए महीना मिलेगा। इसके अलावा HRA 5400 रुपए महीना, TA(अगर दिल्‍ली जैसे मेट्रो में रहते हैं तो) = 1728 रुपए महीना के साथ करीब 30,168 रुपए महीना सैलरी बनेगी।बता दे कि यह एक अनुमान के तौर पर दर्शाया गया है, इसके सैलरी बढ़ या घट भी सकती है।

यह भी पढ़े.. बड़ा फैसला: MP के गृह विभाग ने जारी किया आदेश, कलेक्टर को मिले ये अधिकार

बता दे कि हाल ही में केंद्र की मोदी सरकार ने केंद्रीय कर्मचारियों और पेंशनभोगियों (Central employees and pensioners) के लिए महंगाई भत्ता और महंगाई राहत को वर्तमान दर से बढ़ाकर 1 जुलाई, 2021 से 28 फीसदी करने का एलान किया था। इस कदम से केंद्र सरकार के करीब 48.34 लाख कर्मचारियों व 65.26 लाख पेंशनभोगियों को लाभ हुआ है, इसके बाद से ही अलग अलग अलग राज्यों में महंगाई भत्ता और राहत बढ़ाकर कर्मचारियों को सौगात देने का सिलसिला जारी है।