कर्मचारियों-शिक्षकों को बड़ा तोहफा, मिलेगा सातवें वेतन आयाेग का लाभ, 30000 तक बढ़ेगी सैलरी, एरियर पर अपडेट

इसका करीब बीस हजार शिक्षकों-कर्मचारियों को लाभ मिलेगा और वेतन में 10 से 30 हजार तक बढ़ोतरी होगी।

pension

चंडीगढ़, डेस्क रिपोर्ट। दिवाली से पहले पंजाब की यूनिवर्सिटी और कालेजों के शिक्षकों-कर्मचारियों को बड़ा तोहफा मिला है।पंजाब सरकार ने 1 अक्टूबर को सातवां वेतन आयाेग लागू कर दिया है, इस संबंध में नोटिफिकेशन जारी कर दिया गया है। अब नवंबर में शिक्षकों को अक्तूबर महीने का जो वेतन मिलेगा नए वेतनमान के तहत मिलेगा।इसका लाभ चंडीगढ़ के साथ ही पंजाब की सभी यूनिवर्सिटी और उनसे एफिलिएटेड कॉलेजों के करीब बीस हजार शिक्षकों के को मिलेगा और वेतन में 10 से 30 हजार तक बढ़ोतरी होगी।

यह भी पढ़े..राज्य के सरकारी कर्मचारियों के लिए अच्छी खबर, मिलेगा केन्द्र के समान डीए! पूर्व सीएम का बड़ा बयान

दरअसल, पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने 5 सितंबर को शिक्षक दिवस पर शिक्षकों की मांग पर कॉलेज और यूनिवर्सिटी प्रोफेसर्स को सातवां वेतनमान देने का ऐलान किया था,इसके बाद अब नोटिफिकेशन जारी कर दिया गया है। माना जा रहा है कि पंजाब सरकार एक जनवरी 2016 से सातवां वेतनमान शिक्षकों को जारी करेगी। यूजीसी के सातवें पे कमीशन के आधार पर वेतन दिए जाने से अध्यापकों को विशेष सुविधाएं मिलेंगी। पंजाब सरकार पर सातवां वेतनमान लागू करने से 350 से 400 करोड़ का अतिरिक्त बोझ पड़ना तय माना जा रहा है।

एरियर को पंजाब सरकार ने दो किस्तों में बाद में देने का वादा किया है। हांलाकि इसको लेकर फैसला बाद में किया जाएगा। नए वेतनमान का बकाया(एरियर) दो किस्तों में देने का प्रपोजल है। जानकारी अनुसार दिवाली तक एरियर का काफी हिस्सा शिक्षकों के अकाउंट में ट्रांसफर कर दिया जाएगा। सातवें वेतनमान लागू होने से चंडीगढ़ और पंजाब के कॉलेजों में गेस्ट और कांट्रेक्ट पर कार्यरत्त सैंकड़ों शिक्षकों का भी वेतन बढ़ेगा।अधिकारियों के अनुसार कॉलेज और यूनिवर्सिटी स्तर पर कांट्रेक्ट शिक्षकों को भी यूजीसी नियमों के तहत पूरा वेतन देना सुनिश्चित किया जाएगा।

यह भी पढ़े..र‍िटायर कर्मचार‍ियों को बड़ी राहत, जल्द होगा राशि का भुगतान, मिलेगा पेंशन का लाभ

बता दे कि शिक्षक लंबे समय से सातवें वेतनमान के नोटिफिकेशन को लेकर इंतजार कर रहे थे।नए वेतनमान से रेगुलर के साथ ही कांट्रेक्ट और गेस्ट शिक्षकों को भी लाभ मिलना तय है। अब कांट्रेक्ट और गेस्ट टीचर्स के वेतन में भी यूजीसी नियमों के तहत 5 से 10 हजार तक वेतन बढ़ोतरी होना तय माना जा रहा है। उधर कालेजों को कांट्रेक्ट शिक्षकों के बेसिक वेतन को भी बढ़ाना होगा।