चुनाव से पहले अखिलेश का झटका, BSP के 6 और BJP का एक विधायक हुआ साइकिल पर सवार

शनिवार को भतीजे अखिलेश ने बुआ मायावती के 6 विधायकों को सपा की सदस्यता दिलाकर अपने इरादे साफ कर दिए।

लखनऊ , डेस्क रिपोर्ट।  समाजवादी पार्टी (SP) प्रमुख अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनावों से पहले मायावती को तगड़ा झटका दिया है।  मायावती (Mayawati) की पार्टी बीएसपी (BSP) के 6 विधायक ने हाथी की सवारी छोड़ दी है इसी के साथ ही भाजपा के एक विधायक ने  भी साइकिल की सवारी कर ली यानि उन्होंने भी भाजपा का साथ छोड़ दिया।

समाजवादी पार्टी के मुख्यालय में आज शनिवार को अखिलेश यादव की मौजूदगी में बहुजन समाज पार्टी के 6 और भारतीय जनता पार्टी के 1 विधायक ने अपनी अपनी पार्टियां छोड़कर समाजवादी पार्टी की सदस्यता ली।  ये विधायक अपनी पार्टियों से नाराज चल रहे थे।

भतीजे ने बुआ को दिया बड़ा झटका 

उत्तरप्रदेश की राजनीति में बुआ और भतीजे के नाम से पहचाने जाने वाले मायावती और अखिलेश यादव ने  चुनावी बिसात बिछाना शुरू कर दी है।  अगले साल 2022 में उत्तरप्रदेश में विधानसभा चुनाव होने हैं, पार्टियों ने तैयारी शुरू कर दी है और आज शनिवार को भतीजे अखिलेश ने बुआ मायावती के 6 विधायकों को सपा की सदस्यता दिलाकर अपने इरादे साफ कर दिए।

भाजपा विधायक ने की घर वापसी 

भारतीय जनता पार्टी को छोड़कर सपा की सदस्यता लेने वाले विधायक की घर वापसी हुई है।  ये पिछले विधानसभा चुनाव में सपा छोड़कर भाजपा में चले गए थे और चुनाव जीते थे।

ये विधायक हुए सपा में शामिल 

अखिलेश यादव की पार्टी समाजवादी पार्टी में आज शनिवार को भाजपा विधायक राकेश राठौर के अलावा बीएसपी के विधायक असलम राइनी,  असलम अली चौधरी, मुजतबा सिद्दीकी, हाकिम लाल बिंद, हरगोविंद भार्गव और सुषमा पटेल  शामिल है।