Ayodhya Verdict: बाबा रामदेव ने सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद कही ये बात

नई दिल्ली।

सालों बाद अयोध्या विवाद पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद योग गुरु बाबा रामदेव की भी प्रतिक्रियाएं सामने आई है।बाबा ने अपने बयान में कहा है कि राम का वनवास खत्म हुआ, यह एक ऐतिहासिक फैसला है और अब राम मंदिर बनेगा। वही उन्होंने कहा कि मुस्लिम पक्ष को वैकल्पिक भूमि आवंटित करने का निर्णय स्वागत योग्य है, मेरा मानना है कि हिंदू भाइयों को मस्जिद के निर्माण में भी मदद करनी चाहिए।वही उन्होंने कहा कि हिन्दू और मुसलमान मिलकर भगवान राम के मंदिर का निर्माण करें। यही भारतीय संस्कृति है। देश में ऐसे तमाम मन्दिर और मस्जिद हैं, जिनका निर्माण मिलकर किया गया है। 

बाबा रामदेव ने मीडिया को संबोधित करते हुए कहा कि कोर्ट का निर्णय आ गया है, अब अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण होगा। लेकिन हमें ऐसा कुछ नहीं करना है जिससे किसी समाज में भय या आक्रोश पैदा हो। हमें उन मर्यादाओं का पालन करना है जिन मर्यादाओं स्वयं भगवान श्रीराम जिए।कोर्ट ने सर्वसम्मति से फैसला सुनाया है। कोर्ट ने मुस्लिम पक्ष को मस्जिद का निर्माण करने के लिए 5 एकड़ जमीन देने का आदेश दिया है। मैं देश के लोगों से अपील करता हूं कि शांति बनाए रखें और कोर्ट के फैसले का स्वागत करें।

बाबा रामदेव ने कहा कि इस फैसले को किसी भी पक्ष को हार-जीत के रूप में नहीं देखना चाहिए। देश के सांप्रदायिक सौहार्द को बनाए रखने के लिए जरूरी है कि किसी भी तरह का जश्न या विरोध न हो। मर्यादा पुरुषोत्तम राम के मामले में फैसला आया है और हमें राम के जीवन की तरह ही मार्यादित स्वभाव दिखाना चाहिए।