Best Summer Spot: गर्मियों में घूमने के लिए बेस्ट है भारत का ये ऐतिहासिक शहर, इतिहास और प्राकृतिक खूबसूरती का एक साथ होगा दीदार

Best Summer Spot

Best Summer Spot Gorakhpur: भारत एक ऐसा देश है जहां घूमने फिरने के लिहाज से आपको एक से बढ़कर एक जगह मिल जाएगी। संस्कृति का दीदार करना हो या फिर ऐतिहासिक स्थलों का भ्रमण, खूबसूरत झील, नदी, पहाड़, झरने यहां सभी तरह के रमणीय स्थल मौजूद हैं जो लोगों को अपनी ओर आकर्षित करते हैं।

भारत के हर राज्य की अपनी एक खासियत है जिसकी वजह से वो देश ही नहीं बल्कि दुनिया में भी पहचाना जाता है। मध्य प्रदेश, राजस्थान, गुजरात या फिर बिहार सभी अपनी अनूठी संस्कृति, इतिहास, परिधान, बोली और खान पान के लिए पहचाने जाते हैं।

गर्मियों का मौसम शुरू हो चुका है ऐसे में स्कूलों की छुट्टियां पड़ जाएगी और सभी लोग घूमने फिरने की प्लानिंग करने लगेंगे। अगर आप भी कही जाने का प्लान कर रहे हैं और इस बार आप बेहतरीन इतिहास से रूबरू होना चाहते हैं, तो उत्तर प्रदेश के ऐतिहासिक शहर गोरखपुर का भ्रमण कर सकते हैं।

ऐतिहासिक शहर है गोरखपुर

उत्तर प्रदेश के पूर्वी हिस्से में बसी बाबा गोरखनाथ की तपस्थली गोरखपुर एक ऐतिहासिक शहर है जिसकी ना सिर्फ पूरे प्रदेश बल्कि देश भर में पहचान है। यहां से कुछ किलोमीटर की दूरी पर नेपाल बॉर्डर मौजूद है और पर्यटन के लिहाज से यहां बड़ी संख्या में लोगों का आना जाना लगा हुआ है।

इस शहर में पहुंचने के बाद आपको कई सारे मंदिर ऐतिहासिक स्थल झील आदि देखने को मिलेगी जिनका इतिहास और खूबसूरती आपका दिल जीत लेगी। इस जगह का नाम संत गुरु गोरखनाथ के नाम पर रखा गया है।

यहां पर मौजूद गोरखनाथ मंदिर करोड़ों लोगों की आस्था का केंद्र है और वहीं धार्मिक पुस्तकों को छापने वाली प्रसिद्ध गीता प्रेस भी यहीं पर मौजूद है। स्वतंत्रता सेनानियों से जुड़े स्मारक भी यहां देखने को मिलेंगे इसलिए धार्मिक और ऐतिहासिक लिहाज से यह शहर घूमने के लिए बेस्ट है। अगर आप गोरखपुर घूमने का प्लान बना रहे थे वहां की कुछ खास जगहों का दीदार कर सकते हैं।

ये है Best Summer Spots

गोरखनाथ मंदिर

गोरखनाथ मंदिर इस शहर में मौजूद सबसे बड़ा पर्यटन केंद्र है और पूर्वांचल और बिहार सहित बड़ी संख्या में नेपाल से लोग बाबा गोरखनाथ के दर्शन करने के लिए यहां पर पहुंचते हैं। मकर संक्रांति के मौके पर इस ऐतिहासिक मंदिर में 1 महीने तक माघ मेला लगता है जिसमें देश नहीं बल्कि विदेश से भी लोग बाबा गोरखनाथ को खिचड़ी का भोग अर्पित करने के लिए आते हैं।

Best Summer Spot

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ इस मंदिर के पीठाधीश्वर हैं और जब भी वह गोरखपुर प्रवास पर आते हैं तो उनका रात्रि विश्राम और सुबह का जनता दरबार इसी मंदिर में आयोजित किया जाता है। इस मंदिर से जुड़ी मान्यताओं के मुताबिक यहां अगर सच्चे मन से बाबा गोरखनाथ से कोई मन्नत मांगी जाती है तो वह सबूत पूरी होती है।

 

 

View this post on Instagram

 

A post shared by Ramesh Sharma (@sharmaji.91)

गीता प्रेस

गीता प्रेस एक बहुत पुराना पब्लिशर है और गोरखपुर शहर में इसका 100 वर्ष पुराना प्रेस मौजूद है जो यहां की अमूल्य धरोहर है। इस प्रेस का उद्देश्य कम लागत में धार्मिक पुस्तकों की छपाई करने के साथ उसे पाठकों तक पहुंचाना है। जब आप यहां जाएंगे तो आपको यह देखने को मिलेगा कि यहां पर किस तरह से पुरानी और आधुनिक मशीनों का प्रयोग कर धार्मिक पुस्तकों की छपाई की जाती है।

Best Summer Spot

तारामंडल नक्षत्रशाला

शहर में वीर बहादुर सिंह नक्षत्र शाला भी मौजूद है जहां पहुंचने के बाद आपको ग्रह, नक्षत्र और तारों के बारे में विस्तृत जानकारी लेने को मिलेगी। यहां आने वाले वैज्ञानिकों और पर्यटकों के लिए यह जगह हर वक्त खुली रहती है और यहां पर अलग-अलग चीजों पर शोध चलते हुए देखे जा सकते हैं।

Best Summer Spot

नौका विहार

गोरखपुर में पिकनिक स्पॉट भी मौजूद है जहां पर नौका विहार का आनंद लिया जा सकता है। मुंबई के मरीन ड्राइव की तर्ज पर गोरखपुर का शासन यहां पर पर्यटकों के आनंद के लिए नौका विहार की भव्य सुविधा उपलब्ध करवा रहा है।

Best Summer Spot

इस जगह पर लोग सुबह घूमने फिरने से लेकर श्याम की स्नेक्स का आनंद लेने के लिए पहुंचते हैं। अगर अच्छा फैमिली टाइम स्पेंड करना हो तो घूमने के लिए यह जगह बहुत ही बेहतर है। शाम के समय में यहां पर साउंड और लेजर शो का आयोजन किया जाता है जो किसी का भी मन मोह हो सकता है।

चौरी चौरा शहीद स्मारक

चौरी चौरा कांड के नाम से पहचाने जाने वाले इस ऐतिहासिक स्थल को देखने के लिए बड़ी संख्या में लोग पहुंचते हैं। यहां पर एक भव्य स्मारक बना हुआ है जिसका पर्यटक दीदार करने के लिए पहुंचते हैं। इस जगह का इतिहास से बहुत गहरा नाता है।

Best Summer Spot

बता दें कि 4 फरवरी 1922 को भारतीयों की ओर से ब्रिटिश सरकार के पुलिस चौकी को आग के हवाले कर दिया गया था जिसमें 22 पुलिसकर्मी जिंदा जलकर मर गए थे। यही घटना चौरा चौरी कांड के नाम से पहचानी जाती है।

यह ऐतिहासिक शहर गोरखपुर के वह स्थान है जहां जाने के बाद आपको अलग-अलग चीजों के बारे में जानकारी मिलेगी। बाबा गोरखनाथ का मंदिर जहां आपको आध्यात्मिक शांति का अनुभव करवाएगा तो वहीं गीता प्रेस आपको धार्मिक किताबों की छपाई की प्रोसेस से रूबरू करवाएगी। चौरी चौरा स्मारक एक बार फिर भारत के स्वतंत्रता सेनानियों के प्रति आपके आदर और सम्मान को बढ़ा देगा। तो जब भी आप उत्तरप्रदेश के गोरखपुर जाएं इन जगहों पर घूमना ना भूलें।


About Author
Diksha Bhanupriy

Diksha Bhanupriy

"पत्रकारिता का मुख्य काम है, लोकहित की महत्वपूर्ण जानकारी जुटाना और उस जानकारी को संदर्भ के साथ इस तरह रखना कि हम उसका इस्तेमाल मनुष्य की स्थिति सुधारने में कर सकें।” इसी उद्देश्य के साथ मैं पिछले 10 वर्षों से पत्रकारिता के क्षेत्र में काम कर रही हूं। मुझे डिजिटल से लेकर इलेक्ट्रॉनिक मीडिया का अनुभव है। मैं कॉपी राइटिंग, वेब कॉन्टेंट राइटिंग करना जानती हूं। मेरे पसंदीदा विषय दैनिक अपडेट, मनोरंजन और जीवनशैली समेत अन्य विषयों से संबंधित है।

Other Latest News