उपचुनाव से पहले BJP को डबल झटका, पूर्व सांसद और पूर्व विधायक कांग्रेस में शामिल

शोक चव्हाण की मौजूदगी में भाजपा (BJP) का दामन छ़ोड़ दिया और कांग्रेस में शामिल हो गए।

bjp

मुंबई, डेस्क रिपोर्ट। उपचुनाव (Maharashtra By-election 2021) से पहले महाराष्ट्र की राजनीति (Maharashtra Politics) में तोड़फोड़ का सिलसिला जारी है। अब महाराष्ट्र कांग्रेस ने एक बार फिर बीजेपी को बड़ा झटका दे दिया है। वरिष्ठ भाजपा नेता और पूर्व सांसद भास्कर पाटिल खतगांवकर की कांग्रेस में घर वापसी हो गई है। पाटिल ने सात साल पहले कांग्रेस पार्टी छोड़ दी थी। 30 अक्टूबर को होने वाले महत्वपूर्ण देगलुर विधानसभा उपचुनाव से पहले हुए इस घटनाक्रम का भाजपा पर बड़ा असर पड़ सकता है।

यह भी पढ़े.. MP Weather: मप्र के 11 जिलों में भारी बारिश का अलर्ट, बिजली गिरने की भी चेतावनी

महाराष्ट्र के नांदेड़ से पूर्व सांसद भास्कर पाटिल खतगांवकर (Former MP Bhaskar Patil Khatgaonkar) ने रविवार को लोक निर्माण मंत्री अशोक चव्हाण की मौजूदगी में भाजपा (BJP) का दामन छ़ोड़ दिया और कांग्रेस में शामिल हो गए। उनके अलावा पूर्व विधायक ओमप्रकाश पोकर्णा ने भी कांग्रेस पार्टी का दामन थाम लिया। कांग्रेस में शामिल होते ही भास्कर ने कहा कि वह पूर्व में महाराष्ट्र के मंत्री अशोक चव्हाण (Ashok Chavan) के विरोधी थे, लेकिन अब नहीं हैं। साथ ही कहा कि वो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) के नेतृत्व को पसंद करते हैं, लेकिन यदि हमारे कार्यकर्ताओं को न्याय चाहिए तो मुझे कांग्रेस में होने की जरूरत है।

यह भी पढ़े.. कर्मचारियों के लिए अच्छी खबर, जल्द बढ़ेगी पेंशन की रकम, ये है पूरा कैलकुलेशन

बता दे कि पूर्व सांसद पाटिल-खतगांवकर, तीन बार के सांसद और विधायक और दो बार के राज्यमंत्री (जिन्होंने 2014 में कांग्रेस छोड़ दी) पार्टी के पूर्व दिग्गज और केंद्रीय मंत्री, दिवंगत एसबी चव्हाण के दामाद और अशोक चव्हाण के बहनोई हैं।वही नांदेड़ के पूर्व मेयर और विधायक पोकर्ण 2014 में भाजपा में शामिल हुए थे, लेकिन उन्होंने अपने गुरु पाटिल-खतगांवकर के साथ कांग्रेस में लौटने का फैसला किया है। अशोक चव्हाण और अन्य नेताओं ने पाटिल-खतगांवकर और पोकर्ण के अलावा, कई अन्य पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं का भी स्वागत किया।