Petrol-Diesel Price: आम आदमी को बड़ा झटका, कम नहीं होंगे पेट्रोल-डीजल के दाम

सीतारमण ने प्रेसवार्ता में कहा कि पेट्रोल-डीजल पर एक रुपया भी टैक्स कम नहीं कर सकते है, वर्तमान हालातों में ईंधन पर एक्साइज ड्यूटी कम करने का सवाल ही नहीं उठता है।

petrol disel

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। महंगाई की मार, पेट्रोल-डीजल (Petrol-Diesel Price) और LPG गैस की बढ़ोत्तरी कीमतों के बीच आम आदमी को एक और बड़ा झटका लगा है। केंद्र की मोदी सरकार ने पेट्रोल-डीजल के दाम घटाने से साफ इंकार कर दिया है।केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Finance Minister Nirmala Sitharaman) ने सोमवार को दो टूक कहा कि सरकार (Modi Government) फिलहाल तेल कीमतों में कोई कटौती नहीं कर सकती।यूपीए के कारण मोदी सरकार पहले से ही बोझ झेल रही है, ऐसे में पेट्रोल-डीजल पर एक्साइज ड्यूटी में किसी तरह की कटौती नहीं की जाएगी।

यह भी पढ़े.. किसान सम्मान निधि: इस कारण से अटकी है 9वीं किस्त, इन किसानों को भेजे जा रहे नोटिस

दरअसल, सोमवार को वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने प्रेसवार्ता में कहा कि पेट्रोल-डीजल पर एक रुपया भी टैक्स कम नहीं कर सकते है, वर्तमान हालातों में ईंधन पर एक्साइज ड्यूटी कम करने का सवाल ही नहीं उठता है। सरकार लाख कोशिशों के बावजूद कुछ नहीं कर सकती है, क्योंकि पिछली UPA सरकार ने साल 2013-14 में तेल की कीमतों (Oil prices) को कम करने के लिए तेल बॉन्ड जारी किए थे, जिसका भुगतान नहीं किया गया है और इसका बोझ मोदी सरकार उठा रही है। पिछले सात सालों के दौरान तेल बांड पर कुल मिलाकर 70,195.72 करोड़ रुपये के ब्याज का भुगतान किया गया है।

वित्‍त मंत्री सीतारमण ने कहा कि यूपीए सरकार (UPA Government) ने पेट्रोल-डीजल की कीमतों को कम (Reduced Fuel Prices) करने के लिए 1.44 लाख करोड़ रुपये के ऑयल बॉन्‍ड्स (Oil Bonds) जारी किए थे। केंद्र की मोदी सरकार यूपीए सरकार के इस्‍तेमाल किए गए गलत तरीके का इस्‍तेमाल कर ईंधन की कीमतों में कटौती (Petrol-Diesel Price Hike) नहीं कर सकती है, इसका सारा बोझ सरकार पर आ गया है। 1.34 लाख करोड़ रुपये के जारी तेल बांड पर केवल 3,500 करोड़ रुपये की मूल राशि का भुगतान हुआ है और शेष 1.30 लाख करोड़ रुपये का भुगतान इस वित्त वर्ष से लेकर 2025-26 तक किया जाना है।

यह भी पढ़े.. Suspended: MP में लापरवाही पर 3 निलंबित, 5 को नोटिस, कलेक्टर बोले-लापरवाही बर्दाश्त नहीं

बता दे कि पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनावों (west bengal assembly elections) के बाद से ही पेट्रोल-डीजल की कीमतों में आए दिन तेजी से इजाफा हो रहा है। कई राज्यों में पेट्रोल 100 के पार हो गया है और डीजल की कीमतें भी 100 के करीब पहुंच गई है। पेट्रोल के दाम करीब 20 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में 100 रुपये के पार जा चुका है। वही मध्य प्रदेश में भी पेट्रोल-़डीजल की कीमतों में जमकर उछाल देखने को मिल रहा है, हालांकि पिछले महीने में 17 जुलाई के बाद से तेल की कीमतों में कोई बदलाव नहीं हुआ है। इस दिन पेट्रोल की कीमत 29 से 30 पैसे तक बढ़ी थी।सोमवार 16 अगस्त को भोपाल में पेट्रोल 110.20 रुपये लीटर और डीजल 98.67 रुपये लीटर के करीब बिका