किसान सम्मान निधि: 9वीं किश्त नहीं मिली तो करें यहां क्लिक, इन किसानों को लौटानी होगी राशि

पीएम किसान सम्मान निधि योजना (PM Kisan Samman Nidhi Scheme) के तहत रजिस्टर्ड किसान परिवारों को 6000 रुपये प्रति वर्ष की आर्थिक मदद दी जाती है

किसान सम्मान निधि

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ( PM Narendra Modi) ने पीएम किसान सम्मान निधि योजना (PM Kisan Samman Nidhi Yojana) के तहत मिलने वाली 9वीं किश्त जारी कर दी है। इसके तहत  पीएम मोदी  ने 9.75 करोड़ से अधिक किसानों के खाते में 19,500 करोड़ रुपये से अधिक की जारी की है, लेकिन अब भी कई किसान ऐसे है, जिनके खाते में पैसा नहीं पहुंचा है, ऐसे में किसान परेशान ना हो और ट्रोल फ्री नंबर पर फोन या शिकायत दर्ज कर किश्त के बारें में जानकारी ले सकते है।

यह भी पढ़े.. Suspended: MP में लापरवाही पर 3 निलंबित, 5 को नोटिस, कलेक्टर बोले-लापरवाही बर्दाश्त नहीं

अगर किसी किसान के आवेदन के बाद भी उसे पीएम किसान की किस्त नहीं मिली है, ऐसे में वो अपने लेखपाल, कानूनगो और जिला कृषि अधिकारी से संपर्क कर सकता है वही किसानों के खाते में PM किसान निधि की 2000 रुपये की किस्त नहीं आई है वो किसान सम्मान निधि योजना की हेल्पलाइन (PM-Kisan Helpline No. 155261) या 1800115526 (Toll Free) या फिर 011-23381092 पर संपर्क कर सकते हैं और अपनी समस्या बता सकते है। इसके अलावा ई-मेल आईडी (pmkisan-ict@gov.in) पर अपनी शिकायत मेल भी कर सकते हैं।

इसके अलावा किसान अपने आवदेन को एक बार फिर चेक कर लें, हो सकता है कि जल्दबाजी में कोई गड़बड़ी हो गई होगी, तभी उनकी किश्त उनके खाते में अब तक नहीं पहुंची है।आवेदन में किसान का नाम अंग्रेजी में नहीं होना, जबकि आवेदन में केवल अंग्रेजी अल्फाबेट के साथ ही नाम लिखना होता है। अगर किसान के बैंक का IFSC कोड भरने में कोई गलती या फिर बैंक का खाता नंबर सही से नहीं लिखने के कारण भी किश्त अटक जाती है।कई बार ऐसा भी देखने को मिलता है कि आवेदन करने वाले किसान का नाम उसके बैंक खाते से मेल नहीं खाता है।

यह भी पढ़े.. Aadhaar ने नियमों में किया बदलाव, एड्रेस अपडेट करना हुआ मुश्किल, जानिए प्रोसेस

गौरतलब है कि पीएम किसान सम्मान निधि योजना (PM Kisan Samman Nidhi Scheme) के तहत रजिस्टर्ड किसान परिवारों को 6000 रुपये प्रति वर्ष की आर्थिक मदद दी जाती है, जिसमें किसानों बैंक खातों में हर चार माह में 2000 रुपये की 3 किस्तों के रूप में कुल राशि दी जाती है। इसके तहत केंद्र सरकार 2 हेक्टेयर तक जमीन वाले किसानों (Farmers) को सालाना 6000 रुपये देती है। वही जो किसान इनकम टैक्स देते हैं या सरकारी कर्मचारी हैं या फिर डॉक्टर, इंजीनियर, सीए और जो कर्मचारी पेंशन लेते हैं जिसकी रकम 10,000 से ज्यादा हो, वे इस योजना से बाहर है।

किसानों को मिल रहे नोटिस

एक तरफ किसानों के खातों में 9वीं किश्त पहुंच रही है वही दूसरी तरफ अपात्र किसानों द्वारा योजना का लाभ लेने पर नोटिस भेजे जा रहे है। केंद्रीय कृषि मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर(Union Agriculture Minister Narendra Singh Tomar) के मुताबिक, करीब 42 लाख अपात्र किसानों से 3000 करोड़ की वसूली शुरु कर दी गई है, राज्यों के हिसाब से राज्य सरकारों को नोटिस भेजने और वसूली के निर्देश दिए गए है।इसके तहत उत्तर प्रदेश में 9219 अपात्र किसानों की सूची कृषि विभाग को भेजी है औऱ नोटिस जारी कर राशि जमा कराने के आदेश दिए हैं। अपात्र किसानों को उप कृषि निदेशक कार्यालय में नकद जमा कर उन्हें रसीद दी जाएगी। इसके बाद में विभाग शासन के खाते में ये धनराशि जमा कर ऑनलाइन पोर्टल पर फीडिंग के साथ ही किसान का डाटा डिलीट कराएगा।

पहले ऐसे करें चेक-पैसा आया की नहीं

  • पहले पीएम किसान सम्मान निधि योजना (PM Kisan) की आधिकारिक वेबसाइट https://pmkisan.gov.in/ पर जाएं।
  • यहां आपको राइट साइड पर ‘Farmers Corner’ का विकल्प मिलेगा
  • यहां ‘Beneficiary Status’ के ऑप्शन पर क्लिक करें। यहां नया पेज खुल जाएगा।
  • नए पेज पर आधार नंबर, बैंक खाता संख्या या मोबाइल नंबर में से किसी एक विकल्प को चुनिए। इन तीन नंबरों के जरिए आप चेक कर सकते हैं कि आपके अकाउंट में पैसे आए या नहीं।
  • आपने जिस विकल्प का चुनाव किया है, उसका नंबर भरिए। इसके बाद ‘Get Data’ पर क्लिक करें।
  • यहां क्लिक करने के बाद आपको सभी ट्रांजेक्शन की जानकारी मिल जाएगी। यानी कौनसी किस्त कब आपके खाते में आई और किस बैंक अकाउंट में क्रेडिट हुई।
  • आठवीं किस्त से जुड़ी जानकारी भी आपको यहां मिल जाएगी।
  • यदि आपको ‘FTO is generated and Payment confirmation is pending’ लिखा हुआ दिख रहा है तो इसका मतलब है कि फंड ट्रांसफर की प्रक्रिया शुरू हो गई है। ये किस्त कुछ ही दिनों में आपके खाते में ट्रांसफर हो जाएगी।
  • अगर पिछली सूची में आपका नाम था, लेकिन अपडेटेड सूची में आपका नाम नहीं है, तो आप पीएम किसान के हेल्पलाइन नंबर पर अपनी शिकायत दर्ज करा सकते हैं।

ऐसे सुधारें अपनी गलती और पाएं 9वीं किश्त

अगर 9वीं किश्त नहीं आई है और खाते में कोई गलती हो गई है तो  अपना आधार नंबर, बैंक अकाउंट नंबर को सुधार लें ताकी 9वीं किस्त का पैसा आ सकें।

1. गलती सुधरने के लिए आप सबसे पहले पीएम किसान की ऑफिशियल वेबसाइट https://pmkisan.gov.in/ पर जाएं.
2. अब इसके फार्मर कॉर्नर में जाकर Edit Aadhaar Details ऑप्शन पर क्लिक करें।
3. अब आप यहां आधार नंबर डालकर कैप्चा कोड भरें और सबमिट कर दें।
4. अगर आपको यहां कोई गलती दिखती है तो आप इसे इसे ऑनलाइन ठीक कर सकते हैं।
5. अगर कोई और भी गलती दिखती है तो अपने लेखपाल और कृषि विभाग कार्यालय में संपर्क करें।
6. Helpdesk ऑप्शन के जरिए आप आधार नंबर, अकाउंट नंबर और मोबाइल नंबर डालने के बाद जो भी गलतियां हैं, उन्हें सुधार सकते हैं।
7. आधार नंबर में सुधार, स्पेलिंग में गलती जैसी कई गलतियों को आप ठीक कर सकते हैं।