कर्मचारियों-अधिकारियों को बड़ा झटका, CM ने दिया ये बड़ा आदेश, हो सकती है कार्रवाई

सीएम ने सभी कर्मचारियों को समय पर कार्यालय आने के निर्देश दिए है और कहा कि कहीं भी लंच ब्रेक आधे घंटे से अधिक नहीं होना चाहिए।

EMPLOYEES-pensioners

लखनऊ, डेस्क रिपोर्ट। उत्तर प्रदेश के सरकारी कर्मचारियों-अधिकारियों (UP Government Employees Officers) के लिए बड़ी खबर है।दोबारा सत्ता में आते ही यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने सभी अधिकारियों और कर्मचारियों को बड़ा झटका दे दिया है। सीएम ने सभी कर्मचारियों को समय पर कार्यालय आने के निर्देश दिए है और कहा कि कहीं भी लंच ब्रेक आधे घंटे से अधिक नहीं होना चाहिए। अगर कोई कर्मचारी-अधिकारी समय पर नहीं पहुंचते तो उन पर कार्रवाई की जा सकती है।

यह भी पढ़े.. MP School: निजी स्कूलों को बड़ी राहत, 15 मई तक भेज सकते है प्रपोजल, आदेश जारी

मंगलवार को मुख्यमंत्री आवास पर टीम-9 की बैठक में सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि लंबे समय से अधिकारियों और कर्मचारियों द्वारा लंबे लंच ब्रेक लेने की शिकायतें मिल रही है, लंच के नाम पर अधिकारी-कर्मचारी घर तक जाकर सो जाते हैं, उसके बाद शाम के समय कई बार तो ऑफिस ही नहीं आते थे, जिससे कार्यालयों में काम प्रभावित हो रहा है।इसके बाद सीएम योगी आदित्यनाथ ने सरकारी कर्मचारियों ( UP Government Employees)को लेकर एक बड़ा नियम पारित किया है।

यह भी पढ़े.. 5204 पटवारियों की भर्ती, मानदेय वृद्धि, 900 करोड़ की परियोजनाएँ, पढ़े शिवराज कैबिनेट के 7 बड़े फैसले

इसके तहत सीएम योगी ने अब सूबे के सभी सरकारी कर्मचारियों के लंच ब्रेक का टाइम टेबल निर्धारित कर दिया है। नया नियम लागू होने के बाद अब सरकारी कर्मचारी सीट छोड़कर तीन-तीन घंटे गायब नहीं हो सकेंगे, उन्हे सिर्फ 30 मिनट में भी लंच करने के बाद वापस सीट पर आना होगा।इतना ही नहीं यदि नियम फॅालो नहीं किया तो संबंधित कर्मचारी के खिलाफ विभागीय कार्रवाई की जाए।मुख्यमंत्री सभी जिले के जिलाधिकारियों को नियम को तत्काल प्रभाव से लागू करने के लिए आदेशित किया है।