सरकारी अधिकारियों-कर्मचारियों के लिए महत्वपूर्ण खबर, जारी हुए ये निर्देश, जुलाई से करना होगा पालन

इसके लिये सूचना प्रौद्योगिकी एवं संचार विभाग द्वारा विकसित राज एसएसओ-एएमएस मोबाइल एप्लीकेशन में जियो फेंसिंग तकनीक के माध्यम से कार्यालय परिसर में उपस्थिति दर्ज की जाएगी।

Pooja Khodani
Published on -
employes

Rajasthan Employees News : राजस्थान के सरकारी अधिकारियों कर्मचारियों के लिए महत्वपूर्ण खबर है। राज्य की भजनलाल सरकार ने जल संसाधन विभाग में कार्यरत सभी कर्मचारियों के लिए 1 जुलाई 2024 से उपस्थिति को डिजीटल करने का फैसला किया है। यह उपस्थिति मोबाइल एप्लीकेशन के माध्यम से दर्ज होगी।  कार्मिकों को 21 जून से 30 जून तक ट्रायल आधार पर उपस्थिति का परीक्षण एवं प्रशिक्षण भी दिया जायेगा।

जुलाई से ऑनलाइन होगी कर्मचारियों की उपस्थिति

मुख्यमंत्री भजनलाल शर्मा के सुशासन के संकल्प के तहत 1 जुलाई से जल संसाधन विभाग, इंदिरा गांधी नहर विभाग तथा सिंचित क्षेत्र विकास विभाग के अधीन आने वाले सभी कार्यालयों के अधिकारियों-कर्मचारियों की उपस्थिति मोबाइल एप्लीकेशन के माध्यम से दर्ज होगी।जल संसाधन मंत्री सुरेश रावत के निर्देशो के क्रम में कार्मिकों की उपस्थिति ऑनलाइन माध्यम से सुनिश्चित कराने आदेश जारी किए गए हैं।

एप के माध्यम से होगी डिजिटल उपस्थिति

उल्लेखनीय है कि अधिकारियों एवं कार्मिकों की उपस्थिति को डिजीटलाइज्ड करने के साथ ही जल संसाधन, इंदिरा गांधी नहर एवं सिंचित क्षेत्र विकास विभाग के अधीन आने वाले सभी कार्यालयों, संस्थाओं, बोर्डों एवं निगमों के कार्मिकों की ऑनलाइन दैनिक उपस्थिति की भी नियमित मॉनीटरिंग मुख्यालय स्तर से की जायेगी।इसके लिये सूचना प्रौद्योगिकी एवं संचार विभाग द्वारा विकसित राज एसएसओ-एएमएस मोबाइल एप्लीकेशन में जियो फेंसिंग तकनीक के माध्यम से कार्यालय परिसर में उपस्थिति दर्ज की जाएगी। कार्मिक इस एप को एंड्रॉयड प्ले स्टोर अथवा एपल एप स्टोर से डाउनलोड कर सकते है। इसके लिए कार्मिकों को 21 जून से 30 जून तक ट्रायल आधार पर उपस्थिति का परीक्षण एवं प्रशिक्षण भी दिया जायेगा।


About Author
Pooja Khodani

Pooja Khodani

खबर वह होती है जिसे कोई दबाना चाहता है। बाकी सब विज्ञापन है। मकसद तय करना दम की बात है। मायने यह रखता है कि हम क्या छापते हैं और क्या नहीं छापते। "कलम भी हूँ और कलमकार भी हूँ। खबरों के छपने का आधार भी हूँ।। मैं इस व्यवस्था की भागीदार भी हूँ। इसे बदलने की एक तलबगार भी हूँ।। दिवानी ही नहीं हूँ, दिमागदार भी हूँ। झूठे पर प्रहार, सच्चे की यार भी हूं।।" (पत्रकारिता में 8 वर्षों से सक्रिय, इलेक्ट्रानिक से लेकर डिजिटल मीडिया तक का अनुभव, सीखने की लालसा के साथ राजनैतिक खबरों पर पैनी नजर)

Other Latest News