congress-spokesperson-priyanka-chaturvedi-resigns-from-congress

नई दिल्ली| चुनावी समय में कांग्रेस में हड़कंप मच गया है| महिलाओं के साथ बदसलूकी करने वाले नेताओं को पार्टी में तरजीह देने का आरोप लगाने वाली कांग्रेस नेता और प्रवक्ता प्रियंका चतुर्वेदी ने आज पार्टी से इस्तीफा दे दिया है। उन्होंने गुरुवार रात को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को अपना इस्तीफा सौंपा. शुक्रवार सुबह ही उन्होंने अपनी ट्विटर प्रोफाइल से ‘कांग्रेस प्रवक्ता’ हटा दिया था| 

प्रियंका चतुर्वेदी ने बुधवार को ही पार्टी को लेकर अपनी नाराजगी जाहिर करते हुए ट्वीट किया था, उन्होंने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर ट्वीट के जरिए अपनी ही पार्टी के कार्यकर्ताओं द्वारा की गई बदसलूकी से निराशा जाहिर की थी| उन्होंने लिखा था “काफी दुखी हूं कि अपना खून-पसीना बहाने वालों से ज्यादा गुंडों को कांग्रेस में तरजीह मिल रही है। पार्टी के लिए मैंने गालियां और पत्थर खाए हैं, लेकिन उसके बावजूद पार्टी में रहने वाले नेताओं ने ही मुझे धमकियां दीं। जो लोग धमकियां दे रहे थे, वह बच गए हैं। उनका बिना किसी कार्रवाई के बच जाना  दुर्भाग्यपूर्ण हैं।”

यह था मामला 

दरअसल,  प्रियंका चतुर्वेदी ने मथुरा के स्थानीय नेताओं पर बदसलूकी करने का आरोप लगाया था| प्रियंका पिछले दिनों यूपी के मथुरा में थीं| यहां राफेल डील को लेकर हुई एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने अभद्र व अमर्यादित व्यवहार किया था| जिस पर उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने संज्ञान में लेकर कार्यकर्ताओं के विरूद्ध त्वरित कार्यवाही की. हालांकि बाद में घटना का खेद प्रगट करने पर कार्रवाई को निरस्त कर दिया| इस पूरे मसले पर अफसोस प्रकट करते हुए प्रियंका चतुर्वेदी ने अपनी दुख जाहिर किया|  

बता दें, बीजेपी सरकार की मुखर आलोचना करने वाली राष्ट्रीय प्रवक्ता प्रियंका चतुर्वेदी आए दिन सरकार के रवैये पर प्रतिक्रिया देती रहती हैं| डिबेट में हमेशा भाजपा को घेरने वाली चतुर्वेदी ने जब अपनी ही पार्टी को घेरा तो एक बड़ी बहस छिड़ गई थी| बीते कुछ समय में प्रियंका कांग्रेस का बड़ा चेहरा बनकर उभरी हैं, जो टीवी डिबेट्स में पार्टी का पक्ष रखती हैं| प्रियंका के खुलासे वाले ट्वीट के बाद से भी उनके हक में कई आवाजें खड़ी हुई थीं. ट्विटर पर ही कई बड़ी हस्तियों ने कांग्रेस नेतृत्व से उनके दोषियों के खिलाफ एक्शन लेने की बात कही है|

कांग्रेस प्रवक्ता प्रियंका चतुर्वेदी का पार्टी से इस्तीफा, इस वजह से थीं नाराज