चुनाव आयोग का बड़ा फैसला, रैली और रोड शो पर जारी रहेगा प्रतिबंध

चुनाव आयोग ने चुनावी रैलियों और रोड शो पर प्रतिबंध 31 जनवरी तक बढ़ाया।

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट।  कोरोना संक्रमण के बीच पांच राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनावों पर चुनाव आयोग (Election Commission Of India) नजर रखे हुए है। शनिवार को एक बैठक में चुनाव आयोग ने फैसला लिया है कि रैली और रोड शो पर लगाया गया प्रतिबंध अभी जारी रहेगा। 31 जनवरी तक कोई भी राजनीतिक दल रैली या रोड शो नहीं कर सकेगा।

शनिवार को मुख्य चुनाव आयुक्त की मौजूदगी में सभी चुनाव आयुक्त और उपायुक्त ने बैठक कर चुनावी राज्यों में कोरोना संक्रमण और वैक्सीनेशन की समीक्षा की।  बैठक में पांचों राज्यों के चुनाव आयुक्त भी शामिल हुए। गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश, पंजाब, उत्तराखंड, गोवा और मणिपुर में आने वाले समय ने चुनाव हैं। चुनाव आयोग ने राजनीतिक दलों को खासतौर पर कोरोना गाइडलाइन का पालन करने के निर्देश दिए हैं। आयोग ने प्रशासनिक अधिकारियों को भी निर्देश दिए हैं कि कोरोना गाइड लाइन का उल्लंघन करने वालों पर नियमानुसार कार्रवाई करें।

ये भी पढ़ें – छोटे बच्चों को मास्क लगाने पर सरकार के क्या हैं निर्देश, सुनिए AIIMS के डॉक्टर ने क्या कहा

गौरतलब है कि कोरोना के हालात को देखते हुए चुनाव आयोग ने पहले 15 जनवरी तक रैली और रोड शो पर प्रतिबंध लगाया था, 15 जनवरी को चुनाव आयोग ने समीक्षा कर पाबंदी 22 जनवरी तक बढ़ा दी  और आज 22 जनवरी को चुनाव आयोग ने फिर से समीक्षा कर चुनावी रैलियों और रोड शो पर प्रतिबंध 31 जनवरी तक बढ़ा दिया।

ये भी पढ़ें – कृष्ण भक्ति में पत्नी के साथ जमकर झूमे विधायक, कोरोना के नियम किए दरकिनार

उधर आयोग ने कुछ छूट भी देने का फैसला किया है, पहले चरण के चुनाव के लिए 28 जनवरी से चुनावी सभाओं और घर घर मुलाकात रहेगी  वहीं दूसरे चरण के लिए ये छूट 1 फरवरी से लागू होगी। आयोग ने कहा है कि जो भी छूट दी जा रही है उसमें कोरोना गाइडलाइन का पालन करना बहुत जरुरी होगा।