IPS भाई की पीड़ा से आहत IAS भाई, सोशल मीडिया पर लिखी यह मार्मिक कविता

IPS

Bureau Report- IPS से जबरन रिटायर किए गए उत्तर प्रदेश कैडर के अधिकारी अमिताभ ठाकुर को लेकर उनके भाई ने मार्मिक कविता लिखी है। अपनी मां को समर्पित कविता में छोटे भाई ने बड़े भाई की खूबियों का बखान करते हुए कहा है कि “मां अगले जन्म में फिर अमिताभ पैदा करना।”

प्रॉपर्टी रजिस्ट्री वालों को सीएम शिवराज सिंह चौहान ने दी बड़ी राहत, निर्देश जारी

अमिताभ ठाकुर उत्तर प्रदेश कैडर के भारतीय पुलिस सेवा (IPS) के अधिकारी हैं। वर्ष 1992 बैच के IPS अमिताभ ठाकुर को 2015 में निलंबित कर दिया गया था। उस समय अमिताभ ठाकुर ने समाजवादी पार्टी के प्रमुख मुलायम सिंह यादव पर धमकाने का आरोप लगाया था। उसके बाद 2017 में अमिताभ ठाकुर ने केंद्र सरकार से निवेदन किया था कि वे उनका आईपीएस (IPS) कैडर बदल दें क्योंकि वह मुलायम सिंह यादव से अपने परिवार व जीवन का खतरा महसूस कर रहे हैं। केंद्र सरकार ने 17 मार्च 2021 को उन्हें सेवानिवृत्त करने का आदेश दिया। अमिताभ ठाकुर वर्तमान में आईजी के पद पर कार्यरत थे। सेवानिवृत्ति के बाद अमिताभ ठाकुर ने अपने निवास के बाहर जबरिया रिटायर्ड का बोर्ड भी लगाया जिससे भी चर्चा में आए।

Jabalpur Vehicle Factory बना रही माइन्स प्रोटेक्टिव व्हीकल, भारी विस्फोट में भी सुरक्षित रहेंगे जवान

अब  IPS अमिताभ ठाकुर की छोटे भाई आईएएस अविनाश कुमार ने फेसबुक पर एक कविता लिखी है। इस कविता में उन्होंने अपनी मां और भाई की तस्वीर भी डाली है।
अविनाश की कविता
तुम शर्म मत करना, ना मर्म ही करना
करना ही हो तो, मां तुम गर्व करना
वह वही है, जिसको तुमने जन्‍म दिया
वह सही है जिसको तुमने वरण किया
वह नि:स्‍वार्थ अभी भी
वह यथार्थ है आपका ही
गिरेगा नहीं मो वो
मरेगा नहीं वो
लड़ेगा जरूर मां वो
झुकेगा नहीं वो
शालीनता उसकी कमजोरी नहीं
मसखरापन उसका पागलपन नहीं
सादगी उसकी गरीबी नहीं
हंसकर सह लेना उसका बालपन नहीं
मां, अगले जन्‍म में फिर
अमिताभ पैदा करना
भगवान हर घर में ऐसा नाज पैदा करना
नभ में सितारों के बीच मां
अपने इस विलक्षण पुत्र पर नाज करना।।

Saina Nehwal की बायोपिक में परिणिति का कमाल, संघर्ष की कहानी में देशभक्ति का तड़का

अविनाश कुमार अभी झारखंड में ऊर्जा विभाग के प्रधान सचिव के रूप में पदस्थ है। उनकी इस मार्मिक कविता पर लोगों की जमकर प्रतिक्रिया आ रही है। इस प्रतिक्रिया में IPS अमिताभ ठाकुर की ईमानदारी और सादगी की तारीफ हो रही है। एक पत्रकार ने लिखा है ‘ठाकुर जी पर हमें गर्व है। उन्हें मेरा सलाम’ ।कई अन्य लोगों ने अविनाश की इस कविता को दिल को छू लेने वाली कविता बताते हुए IPS अमिताभ की इमानदारी सादगी व सरलता की प्रशंसा की है। अपने मन में चल रही उथल-पुथल को आईएएस अविनाश कुमार ने भगत सिंह की एक मशहूर पंक्ति के माध्यम से भी व्यक्त किया है “मेरे जज्बात से इस कदर वाकिफ है कलम मेरी, मैं इश्क भी लिखना चाहूं तो इंकलाब लिखा जाता है।”

Corona Effect : बढ़ते संक्रमण के चलते फाग महोत्सव स्थगित, गृह मंत्री की उपस्थिति में लिया गया निर्णय

यूपी प्रशासन का फैसला
अमिताभ ठाकुर IPS (आईजी रूल्स एवं मैनुअल) के खिलाफ कई मामलों में जांच चल रही थी।उत्तर प्रदेश शासन ने एक आर्डर में कहा था कि गृह मंत्रालय के आदेश के अनुसार IPS अमिताभ ठाकुर को लोकहित में सेवा में बनाये रखे जाने के उपयुक्त न पाते हुए लोकहित में तात्कालिक प्रभाव से सेवापूर्ण होने से पूर्व सेवानिवृत किये जाने का निर्णय लिया गया है।इनके अतिरिक्त IPS राजेश कृष्ण (सेनानायक, 10वीं बटालियन, बाराबंकी) व IPS राकेश शंकर (डीआईजी स्थापना) की सेवाएं भी समाप्त कर दी गई हैं। राजेश कृष्ण पर पुलिस भर्ती में घोटाले का आरोप लगा था। राकेश शंकर पर देवरिया शेल्टर होम प्रकरण में संदिग्ध भूमिका के आरोप थे।