साबरमती में गांधी जी के आश्रम पहुंची राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू, चलाया चरखा

देश की महामहिम राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू गुजरात की साबरमती में महात्मा गांधी के आश्रम पहुंची। इस दौरान उन्होंने गांधी जी के आश्रम में चरखा भी चलाया।

गांधीनगर, डेस्क रिपोर्ट | देश की महामहिम राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू गुजरात की साबरमती में महात्मा गांधी के आश्रम पहुंची। इस दौरान उन्होंने गांधी जी के आश्रम में चरखा भी चलाया। जिसके बाद महात्मा गांधी की प्रतिमा पर पुष्प अर्पित कर उन्हें श्रद्धांजलि दी। केवल इतना ही नहीं उन्होंने राष्ट्रपिता के संपूर्ण जीवन काल और उनके स्वतंत्रता संग्राम को दर्शाने वाली प्रदर्शनी को देखा। साथ ही आश्रम पूर्ण विकास परियोजनाओं के मॉडल का निरीक्षण किया। जिसके बाद वह राष्ट्रपिता के आवाज हृदय कुंज पहुंची। इस पूरे कार्यक्रम के दौरान प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल भी मौजूद रहे। बता दें कि राष्ट्रपति बनने के बाद यह उनका पहला दौरा है।

राष्ट्रपति मुर्मू ने अपनी पहली यात्रा के दौरान गुजरात के लोगों को 1,330 करोड़ रुपए की परियोजनाओं की सौगात दी है। जिसमें स्वास्थ्य, चिकित्सा शिक्षा, सिंचाई, सड़क के बुनियादी ढांचे, नौवहन और जलमार्ग जैसे परियोजनाएं शामिल हैं। इस दौरान उन्होंने जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि, “भारत दुग्ध उत्पादन एवं उपभोग की दृष्टि से पहले नंबर पर है। गुजरात में दुग्ध सहकारी संगठनों द्वारा लायी गयी श्वेत क्रांति इसमें एक अहम भूमिका निभाती है। गुजरात देश के 76 फीसद नमक का उत्पादन करता है। यह कहा जा सकता है कि सब देशवासी गुजरात का नमक खाते हैं।’’

साथ ही उन्होंने आगे कहा कि, “प्राचीन काल से गुजरात भारत की संस्कृति एवं सभ्यता का बड़ा केंद्र रहा है। हड़प्पा (सभ्यता) से जुड़ा धोलावीरा गुजरात में है। सम्राट अशोक का शिलालेख जूनागढ़ में तथा मोधेरा में सूर्य मंदिर है। सूरत और मांडवी के व्यापारिक केंद्र समृद्ध संस्कृति के प्राचीन उदाहरण हैं और तत्कालीन मुख्यमंत्री के रूप में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुजरात मॉडल को एक आकार दिया जिससे राज्य की प्रगति का मार्ग प्रशस्त हुआ।”

यह भी पढ़ें – MP: कर्मचारियों-अधिकारियों के लिए जरूरी खबर, तबादलों के लिए ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया शुरू, ये रहेंगे नियम

वहीं, राष्ट्रपति भवन द्वारा बताया गया था कि, “राष्ट्रपति 4 अक्टूबर को गुजरात विश्वविद्यालय के स्टार्ट-अप प्लेटफॉर्म ‘हरस्टार्ट’ का शिलांन्यास करेंगी जो कि खासकर महिला उद्यमियों के लिए है। इस स्टार्ट-अप के माध्यम से नए विचारों को सशक्त बनाने की दृष्टि से स्थापित किया गया है। यह महत्वाकांक्षी स्टार्ट-अप महिला उद्यमियों को सशक्त बनाने के लिए स्थापित किया गया है। यह स्टार्ट-अप कार्यक्रम उन सभी महिलाओं के लिए है जिनके पास नए विचार और मौजूदा व्यावसायिक उद्यम हैं।”

यह भी पढ़ें – भोपाल एयरपोर्ट पर गरबे की थाप पर थिरकते नजर आए यात्री, सुरक्षाकर्मी भी हुए शामिल, वीडियो वायरल

इसके अलावा महामहिम ने अस्पताल और आदिवासियों के लिए नर्मदा जिले में नए मेडिकल कालेज की आधारशिला रखी है। इस दौरान राष्ट्रपति मुर्मू ने कहा है कि, “540 बिस्तरों वाला अत्याधुनिक अस्पताल नर्मदा जिले के लोगों को चिकित्सा सुविधाओं का लाभ उठाने में सुविधा प्रदान करेगा, जहां 85 प्रतिशत आबादी आदिवासी समुदाय से है।”

यह भी पढ़ें – हजारों पेंशनरों की बड़ी तैयारी, सरकार के खिलाफ खोला मोर्चा, पेंशन की मांग, CM को लिखा पत्र, मिलेगा लाभ!