cabinet meeting

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। 2 दिन बाद यानि 24 जून 2021 को पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने जम्मू-कश्मीर (J&K) की सभी राजनीतिक पार्टियों के साथ दिल्ली (Delhi) में बैठक बुलाई गई है। इसमें छोटी पार्टियों और मुख्यधारा की पार्टियों के अध्यक्षों के साथ जम्मू-कश्मीर (Jammu Kashmir) के सभी पूर्व सीएम को भी आमंत्रित किया गया है। पीएम मोदी के साथ होने वाली इस बैठक में शामिल होने वाले नेताओं को कोरोना नेगेटिव (Coronavirus) रिपोर्ट पेश करने के लिए कहा गया है।

यह भी पढ़े.. मध्य प्रदेश में 1 नवंबर से लागू होगा यह नियम, बिजली बिलों में मिलेगी बड़ी राहत

खबर है कि कम्युनिस्ट विधायक मोहम्मद यूसुफ तारिगामी को भी बैठक के संबंध में भारत सरकार (Indian Government) के गृह सचिव का फोन गया है।वही इस बैठक में गुपकार नेता भी शामिल होंगे। गुपकार गठबंधन के अध्यक्ष फारूक अब्दुला ने भी नेताओं से विचार विमर्श के बाद पीएम मोदी की बैठक में शामिल होने का ऐलान किया है। इससे पहले नेशनल कांफ्रेंस के प्रमुख फारूक अब्दुल्ला (Farooq Abdullah) ने कहा था कि मुझे केंद्र सरकार की ओर से जम्मू-कश्मीर के सभी दलों की बैठक का न्योता भी मिला है।

वहीं, जम्मू-कश्मीर बीजेपी के अध्यक्ष रविंदर रैना ने कहा कि उन्हें भी 24 जून को होनी वाली सर्वदलीय बैठक के लिए पीएम मोदी की तरफ से आमंत्रित किया गया है।सूत्रों की मानें तो केंद्रशासित प्रदेश में राजनीतिक गतिरोध को खत्म करने के लिए केंद्र मुख्यधारा के राजनीतिक दलों तक पहुंच बना रहा है, जम्मू-कश्मीर के लिए राज्य का दर्जा बहाल करने की अटकलों के बीच यह बैठक हो रही है।

यह भी पढ़े.. MP Weather Alert: मप्र के इन जिलों में बारिश के आसार, बिजली चमकने की भी संभावना

वही पीएम मोदी की बैठक से पहले महबूबा मुफ्ती का बड़ा बयान सामने आया है। मुफ्ती ने कहा कि जम्मू-कश्मीर को लेकर पाकिस्तान से भी बात होनी चाहिए। संविधान ने हमें जो अधिकार दिया है, जो हमसे छीना गया है, उसके अलावा भी जम्मू-कश्मीर में एक मसला है, पूरे क्षेत्र में शांति करनी चाहिए।जम्मू-कश्मीर में भी सभी के साथ बातचीत करें और पाकिस्तान के साथ भी करें।

गौरतलब है कि जम्मू-कश्मीर में साल 2019 में आर्टिकल-370 (Article 370) को निरस्त करने और राज्य को दो केंद्र शासित प्रदेशों में विभाजित करने के करीब दो साल बाद मोदी सरकार (Modi Government) की ओर से बड़ी और महत्वपूर्ण पहल की जा रही है। पीएम मोदी 24 जून को मुख्यधारा के राजनीतिक दलों के साथ बैठक करेंगे।इसमें कुछ बड़े फैसले लेने की संभावना जताई जा रही है।

यह भी पढ़े.. महिलाओं के रोजगार को लेकर मप्र सरकार का बड़ा फैसला, विभाग ने जारी किए निर्देश